बिना दवाब में खेलने की कोशिश करूंगी : राजतपरी सिंधू

नई दिल्ली : रियो ओलंपिक की बैडमिंटन प्रतिस्पर्धा में मैडल जीतकर देश को गोरान्वित करने वाली रजत पदक विजेता पीवी सिंधू आत्मविश्वास से लबरेज है. रियो के बाद सिंधू अब एक बार फिर डेनमार्क ओपन के जरिए अंतराष्ट्रीय सर्किट में वापसी करने जा रही है. इस मौके पर सिंधू ने कहा कि - रियो के बाद से उनके मनोबल में बढ़ोतरी हुई है और वह आगामी टूर्नामेंटों में बिना दबाव के खेलने की कोशिश करेंगी.

सिंधू ने कहा- ओलंपिक केे बाद मेरी जिंदगी काफी बदल गई है और मैं रजत पदक को लेकर बेहद खुश हूं. मेने आने वाले टूर्नामेंट को लेकर प्रैक्टिस स्टार्ट कर दी है. डेनमार्क व फ्रेंच ओपन की तैयारी में जुट गई हूं. हम कल रवाना हो रहे हैं और मैं उम्मीद करती हूं कि मैं अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करूंगी.

मैं जानती हूं कि ओलंपिक पदक के बाद मेरी जिम्मेदारियां बढ़ गई हैं और मैं आगे के टूर्नामेंटों में अपना सौ फीसदी देने का प्रयास करूंगी. आपको बता दे कि रियो ओलंपिक में अपने बेहतरीन प्रदर्शन की बदौलत सिंधु ने दूसरा स्थान हासिल करते हुए रजत पदक हासिल किया था. फाइनल में सिंधु का सामना स्पेन की कैरोलीना मारिन से हुआ. इस मैच में सिंधु ने काफी संघर्ष किया था लेकिन के हार का सामना करना पड़ा.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -