छठ को लेकर तैयार हुए प्रदेश के घाट

देशभर में छठ पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। छठ पर्व को लेकर उत्तर भारत के ही साथ देशभर में तैयारियां की जा रही हैं। मध्य भारत में भी आज से नहाय खाय के साथ छठ पर्व का प्रारंभ हो गया है। गौरतलब है कि कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की षष्ठी का पर्व छठ के तौर पर मनाया जाता है। इसमें महिलाऐं तीन से चार दिन तक निर्जल व्रत रखती हैं और अस्ताचल सूर्य को अध्र्य देती हैें। महिलाओं और युवतियों के लिए व अन्य श्रद्धालुओं के लिए प्रदेश के घाटों को तैयार कर लिया गया है।

कुछ स्थानों पर श्रद्धालुओं द्वारा छठ का पर्व सरोवर में अध्र्य देकर मनाया जाएगा। ऐसे में सरोवरो को लेकर भी तैयारी की गई है। घाटों व सरोवरों को साफ कर लिया गया है। आसपास के क्षेत्र को भी व्यवस्थित कर लिया गया है। बाजारों में गन्ने, सूप, फलों, मिठाईयों आदि की बिक्री प्रारंभ हो गई है।

महिलाओं द्वारा गेहूं, चने, गुड़ के व्यंजन बनाने की तैयारी की जा रही है। गुड़ की खीर भी महिलाओं द्वारा बनाने के लिए सारी सामग्री एकत्रित कर ली गई है। षष्ठी के दिन श्रद्धालुओं द्वारा अस्ताचल सूर्य को पानी में आधे खड़े रहकर अध्र्य दिया जाएगा।

भाई दूज पर यमुना और यमराज की पूजा करने का होता..

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -