इस माहे रमज़ान हो सकते हैं पांच जुमा (शुक्रवार)

भारत और दूसरे सभी देशों में आज से रमज़ान के पाक महीने का आग़ाज़ हो चूका है. इस महीने में कुरआन की तिलावत के साथ, कई नमाज़ें पढ़ी जाती है और रोज़े भी रखे जाते हैं. इस महीने में सभी मुसलमान भाई पूरे तरह से अल्लाह की इबादत में डूब जाते हैं. इसी के साथ-साथ रात के समय में तरावीह का सिलसिला शुरू होता है, जिसमें तमाम भाई मस्जिद में शिरकत करते हैं और हाफ़ीज़ द्वारा पढ़ी जा रही क़ुरआन को सुनते हैं.

इस साल रमज़ान का आग़ाज़ 17 मई 2018 यानी गुरूवार को हो चूका है. कयास लगाए जा रहे हैं की यदि इस रमज़ान तीस दिन का चाँद हुआ तो इस रमजान के पाक महीने में पांच जुमा यानी पांच शुक्रवार पड़ सकते हैं. रमज़ान के यह शुक्रवार दूसरे रोजे 18 मई, नौंवा रोजा 25 मई, सोलहवां रोजा 01 जून, तेइसवां रोजा 08 जून और तीसवां रोजा 15 जून को पड़ेगा.

बताया जाता है कि रमज़ान के महीने में आखिरी जुमा का बड़ा महत्त्व होता है. आपको बता दें कि बुधवार को रमज़ान के चाँद का दीदार काफी मुश्किल से हो पाया. इस चाँद की मौजूदगी केवल 29 सेकंड के लिए ही रही, जिस कारण कई जगह चाँद का दीदार हुआ और कई जगह नहीं हुआ. लेकिन इस बात की पुष्टि हो चुकी है कि पुरे देश में आज यानी 17 मई को रमज़ान का पहला रोज़ा रखा गया है.

इस हसीन एक्ट्रेस की खूबसूरती को दर्शाती शायरियां

चाँद रात की मुबारकबाद देती शायरियां

जानिए, क्या है रमजान और क्यों रखते है इस दौरान रोजा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -