पुर्तगालियों ने 450 वर्षों तक हिन्दू संस्कृति को रौंदा, उसको पुनर्स्थापित करना हमारा कर्तव्य - CM प्रमोद सावंत

पणजी: बाबा विश्वनाथ की नगरी वाराणसी स्थित विवादित ज्ञानवापी मस्जिद की सर्वे रिपोर्ट के बाद अब गोवा के सीएम प्रमोद सावंत ने भी गोवा के उन मंदिरों के पुनर्निर्माण पर जोर दिया है जिन्हे पुर्तग़ालियों ने तोड़ डाला था। इसके लिए उन्होंने सरकार द्वारा बजट जारी करने की बात कही है। इसी के साथ उन्होंने गोवा आने वाले सैलानियों को मंदिरों की ओर आकर्षित करना सरकार का कर्तव्य बताया। सीएम सावंत ने उक्त बातें शनिवार (21 मई 2022) को दिल्ली में आयोजित पाञ्चजन्य के सेमिनार में कहीं हैं।

CM प्रमोद सावंत ने कहा कि, 'जल्द ही गोवा देश के सबसे अच्छे राज्यों में शामिल होगा। मझे गर्व है कि गोवा में आज़ाद के वक़्त से ही समान नागरिक संहिता (UCC) लागू है। यही कानून देशभर में भी लागू होना चाहिए। गोवा की आजादी में देरी कांग्रेस के कारण हुई थी। इसी पार्टी की नीतियों के कारण ही 1947 में स्वतंत्र हुए देश में गोवा 20 वर्ष बाद 1967 में आज़ाद हो पाया। भाजपा की 2012 में सरकार आने के बाद जो कार्य 60 वर्षों में नहीं हो पाया, वो हमनें 10 वर्षों में 2022 तक कर के दिखाया है।'

गोवा के सीएम प्रमोद सावंत ने आगे कहा कि, 'पुर्तगालियों ने 450 वर्षों तक गोवा की मूल हिन्दू संस्कृति को तबाह किया। हम उसी संस्कृति को पुनर्स्थापित करना चाह रहे हैं। आखिर इसमें बुराई क्या है? अभी जहाँ-जहाँ भी टूटे मंदिर बने हुए हैं, वो मंदिर बनने ही चाहिए। इसी के लिए इस बार सरकार ने अपने बजट में 20 करोड़ रुपए आवंटित किए हैं।'

संगरूर उपचुनाव में भगवंत मान की बहन को उतार सकती है AAP, भाजपा का ये है प्लान

टिकैत बंधुओं पर मंडराया नया संकट, सरकारी जमीन हड़पने के आरोप, अब शुरू होगी जांच

'अलगाववादियों का समर्थन कर रहे राहुल गांधी..', हिमंता सरमा का कांग्रेस नेता पर तीखा हमला

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -