कितनी तबाही मचाएगा 'तूफ़ान जवाद' ? चक्रवात के अलर्ट पर PM मोदी की बड़ी बैठक

नई दिल्ली: पीएम नरेंद्र मोदी ने देश में चक्रवाती तूफान जवाद (Jawad) को लेकर बनी स्थिति को पर बैठक ली. इससे पहले, जवाद तूफान के कारण रलवे ने 95 ट्रेनों को निरस्त कर दिया. तो वहीं, कैबिनेट सचिव राजीव गौबा के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय संकट प्रबंधन समिति (NCMC) ने बुधवार को बंगाल की खाड़ी में आसन्न चक्रवात से निपटने के लिए तैयारियों की समीक्षा करने के लिए अहम बैठक की, जिसके आंध्र प्रदेश, ओडिशा और पश्चिम बंगाल को प्रभावित करने का अनुमान है.

IMD ने ओडिशा के गजपति, गंजम, पुरी और जगतसिंहपुर जिलों में रेड अलर्ट (भारी से बहुत भारी वर्षा कि चेतावनी) जारी किया है. चक्रवाती तूफान के तट के करीब पहुंचने के बाद केंद्रपाड़ा, कटक, खुर्दा, नयागढ़, कंधमाल, रायगडा और कोरापुट जिलों में चार दिसंबर के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी कर दिया है. देश के शीर्ष नौकरशाह ने विभिन्न केंद्रीय और राज्य एजेंसियों को ‘किसी भी प्रकार के जानमाल के नुकसान से बचने और संपत्ति, बुनियादी ढांचे और फसलों को कम से कम नुकसान होने देने’’ का निर्देश दिया. 

वहीं, केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि, ‘कैबिनेट सचिव ने इस बात पर भी जोर दिया कि राज्य सरकारों को यह सुनिश्चित करने के लिए सभी कोशिश करनी चाहिए कि मछुआरों और समुद्र में सभी नौकाओं को फ़ौरन वापस बुला लिया जाए और चक्रवाती तूफान से प्रभावित इलाकों से लोगों को जल्द से जल्द निकाला जाए.’

केंद्र सरकार ने लिखी महाराष्ट्र सरकार को चिट्ठी, दिए यह अहम निर्देश

CM ममता बनर्जी के खिलाफ FIR दर्ज, किया राष्ट्रगान का अपमान

राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस आज, प्रदूषण से सुरक्षित रहने के लिए डाइट में शामिल करें ये चीज़ें

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -