बजट से पहले अर्थशास्त्रियों से इन मुद्दों पर चर्चा करेंगे पीएम मोदी

नई दिल्ली: पीएम नरेंद्र मोदी शाम को देश के अर्थशास्त्रियों से मिलकर के बजट को लेकर के बारे में विचार विमर्श करेंगे। बजट के बहाने पीएम मोदी देश की गिरती अर्थव्यवस्था और किसानों के सम्बन्ध में चर्चा करेंगे। एनडीए सरकार के दूसरे कार्यकाल में अर्थव्यवस्था बुरी तरह गिरी है। जनवरी-मार्च के बीच देश की विकास दर 5.8 प्रतिशत तक ही पहुंच पाई है। 

यह बैठक नीति आयोग में आयोजित होगी। बैठक से पहले आयोग ने अर्थशास्त्रियों और सेक्टर एक्सपर्ट को अलग-अलग टीमों में बांट दिया है। यह लोग एक-एक करके सरकार को अपना प्रजेंटेशन देंगे।  जिन मुद्दों को लेकर के बैठक में मंथन और प्रजेंटेशन होगा, उनमें इंफ्रास्ट्रक्चर, खेती और बेरोजगारी मुख्य हैं। इसमें सरकार को सुझाव दिया जाएगा कि कैसे वो इन मुद्दों पर आगे की रणनीति तैयार कर सकती है।

केंद्र सरकार ने पहली दफा बेरोजगारी का आंकड़ा जारी किया है। वित्त वर्ष 2017-18 में बेरोजगारी 6.1 प्रतिशत रही थी, जो कि पिछले 45 वर्षों (1972-73 के बाद) में सबसे अधिक है। इससे पहले एक अखबार ने भी इसी डाटा को लीक किया था। रिपोर्ट के अनुसार ग्रामीण क्षेत्रों में बेरोजगारी दर 5.3 प्रतिशत और शहरी क्षेत्रों में 7.8 प्रतिशत रही थी। इसी तरह, देशभर में 6.2 प्रतिशत पुरुषों के पास कोई रोजगार नहीं है, जबकि 5.7 प्रतिशत महिलाएं बेरोजगार हैं। 

योग को बढ़ावा देकर पुरस्कार पाने वालों को पीएम मोदी ने दी बधाई

अमेठी के विकास कार्य में जुटी स्मृति ईरानी, गोवा सीएम के साथ अपने संसदीय क्षेत्र पहुंची

माटी कला से जुड़े लोगों के लिए खुशखबरी, योगी सरकार ने लिया बड़ा फैसला

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -