Share:
'बसोर' शब्द बोलकर बुरे फंसे पंडित धीरेंद्र शास्त्री, उठी FIR की मांग
'बसोर' शब्द बोलकर बुरे फंसे पंडित धीरेंद्र शास्त्री, उठी FIR की मांग

सीकर: बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री की दिक्कतें एक बार फिर बढ़ती नजर आ रही हैं। दरअसल, बीते दिनों पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री राजस्थान के सीकर में हुई कथा के चलते मंच से गुस्से में आकर प्रेम की अर्जी लगाने आए एक शख्स से कहा था- 'क्या मैं बसोर हूं?' अब उनके बोले शब्द ने तूल पकड़ लिया है। दरअसल, हुआ यूं कि दिव्य दरबार के लिए सजे मंच पर अर्जी लगाने पहुंचे शख्स से धीरेंद्र शास्त्री की गर्मागर्मी हो गई। बाबा ने पत्रक पर युवक से संबंधित जानकारी लिखी दी थी। मगर वह पत्रक में लिखे Love शब्द के होने और न होने को लेकर शास्त्री से बहस करने लगा। तत्पश्चात, पंडाल में बैठे कुछ लोगों को धीरेंद्र शास्त्री ने पत्र पढ़वाने के लिए बुलाया, जिन्होंने 'Love' शब्द लिखे होने पर हामी भर दी। बस फिर क्या था, धीरेंद्र शास्त्री अपने चिर परिचित अंदाज में अर्जी लगाने आए शख्स पर भड़के उठे।  

बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर ने कहा, ''आप बाबा का पर्दाफाश करने के इरादे से आए थे।'' इसे नकारते हुए शख्स ने कहा, नहीं...नहीं...मैं ऐसा करने नहीं आया...मैं स्वयं ब्राम्हण हूं। '' इस पर तपाक से धीरेंद्र शास्त्री ने कहा, ''हम क्या बसोर हैं...'' वही इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो भी बागेश्वर धाम सरकार के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर साझा किए गए थे। वहीं, इसके सिलसिले में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X (पहले ट्विटर) पर धाम की तरफ से लिखा गया, ''सीकर की महादिव्य दरबार में एक अर्ध विक्षिप्त पुरुष पहुंचा…पूज्य सरकार ने उसकी मनोदशा जानकार उसे बुलाया तथा उसे उसके जीवन में हुई परेशानी से अवगत करवाया…किन्तु उसने दरबार पर ही सवाल खड़ा कर दिया। उसने पर्चे को ही झूठा साबित करने की कोशिश की। तत्पश्चात, लगभग 10 लोग मंच पर आए तथा बताए पूज्य सरकार ने उसकी क्या समस्या लिखी है। मगर वो मानने को तैयार नहीं। तत्पश्चात, बाला जी ने उसकी ऐसी पोल खोली वो हक्का बक्का रह गया…वो एक मुस्लिम महिला के प्रेम जाल में फंसा था और जबकि वो शादीशुदा और एक बच्ची का पिता है। पूरा परिवार उसके कुकृत्य से परेशान था। पूरे परिवार ने उसके किए की गलती पूज्य सरकार से मांगी। हमारे सरकार इतने सरल हैं कि पूरे परिवार को भी माफ किया तथा उस युवक को बाला जी बुद्धि दे इसकी भी प्रार्थना की।'' 

वहीं, बसोर समाज ने आपत्ति व्यक्त करते हुए बागेश्वर धाम के जिला मुख्यालय छतरपुर जाकर अजाक थाने में शिकायती आवेदन दिया है। इसमें पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की गई है। साथ ही चेतावनी दी है कि यदि कार्रवाई नहीं हुई तो पूरा समाज बौद्ध धर्म अपना लेगा। अखिल भारतीय बसोर समाज विकास समिति के पदाधिकारी उदय कुमार महोबिया तथा शंभू दयाल महोबिया ने ज्ञापन सौंपकर कहा कि पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने हमारे समाज को अपमानित किया है। इसी बात को लेकर हम सभी एकजुट हुए तथा शास्त्री के विरुद्ध कार्रवाई की मांग के लिए अजाक थाने में आए। पुलिस से मांग करते हैं कि बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री के विरुद्ध कानूनी एक्शन लिया जाए, नहीं तो हम सभी समाज के लोग धर्म परिवर्तन करते हुए बौद्ध धर्म अपना लेंगे। दूसरी तरफ, पुलिस के अफसरों ने आवेदन लेते हुए मामले की जांच करने की बात कही है। SDOP सलिल शर्मा ने कहा है कि तहकीकात के उपरांत जो भी तथ्य सामने आएंगे, उनके मुताबिक, वैधानिक कार्रवाई की जाएगी। 

प्रेमिका के गर्भवती होने के बाद प्रेमी कर रहा था शादी से इंकार, पुलिसवालों ने लगवा दिए 7 फेरे

बच्चों की जिंदगी के साथ फिर हुआ खिलवाड़! स्कूल के मिड-डे मील में निकली छिपकली, दर्जनों बच्चों की हालत बिगड़ी

रिलीज हुआ 'द वैक्सीन वॉर' का ट्रेलर, महामारी के बीच भारत की 'अपनी वैक्सीन' बनने की कहानी

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -