नीचता पर उतरा पाक, साजिश के तहत PoK में शिफ्ट किए 200 'कोरोना' मरीज

लाहौर: पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (PoK) के लोग पाकिस्तान सरकार के उस निर्णय के खिलाफ सड़कों पर उतर कर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं जिसमें पाकिस्तान के लगभग 200 कोरोना संक्रमित लोगों को PoK में रखा गया है. कश्मीरी राजनीतिक कार्यकर्ताओं का कहना है कि पाकिस्तान ने 200 से अधिक कोरोना पीड़ित मरीजों को (POK) के मीरपुर शहर के एक अस्पताल में शिफ्ट कर दिया है.

कार्यकर्ताओं ने इसके लिए पाकिस्तान को जमकर लताड़ लगाई है. कार्यकर्ताओं का कहना है कि पाकिस्तान जानबूझकर अंतरराष्ट्रीय मदद पाने के लिए कोरोना का संक्रमण फैला रहा है.  यूनाइटेड कश्मीर पीपल नेशनल पार्टी के प्रवक्ता नजीर अजीज खान ने कोरोना वायरस के मरीजों को पीओके में शिफ्ट करने के पाकिस्तान के कदम की कड़ी निंदा की है. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के कई सारी खाली जगहें और हॉस्पिटल मौजूद हैं जहां कोरोना पीड़ितों को रखा जा सकता है. किन्तु 200 से अधिक संक्रमितों को पीओके में रखने के पीछे पाकिस्तान का षड्यंत्र है. पाकिस्तान पीओके में कोरोना फैलाकर अंतरराष्ट्रीय मदद पाना चाहता है. 

नासिर ने आगे कहा कि जब कोरोनो वायरस का संक्रमण पूरे पाकिस्तान में फैलने लगा तब सरकार ने उसे गंभीरता से नहीं लिया. पीओके में केवल एक कोरोना का पॉजिटिव मामला सामने आया था. अब पंजाब प्रांत से 200 से अधिक कोरोना पीड़ितों को PoK के मीरपुर शहर में शिफ्ट किया जा रहा है. जबकि पीओके में कोई बुनियादी स्वास्थ्य सुविधाएं भी नहीं हैं. 

चीन और इटली के बाद इस 'देश' में तबाही मचाएगा कोरोना, WHO ने जारी की चेतावनी

कोरोना संकट के बीच जेल से रिहा होंगी बांग्लादेश की पूर्व पीएम खालिदा जिया

किसी भी स्वस्थ व्यक्ति को हो सकता है कोरोना, अमेरिका में मिला सबूत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -