अमोल पालेकर को गर्लफ्रेंड ने पेंटर से बना दिया एक्टर

अनुभवी अभिनेता अमोल पालेकर आज अपना 72 वां जन्‍मदिन मना रहे है। अमोल अब एक पेंटर की जिंदगी बीता रहे हैं। गोलमाल जैसी शानदार फिल्म देने वाले अमोल का कहना है कि पेंटिंग उनका पहला प्‍यार था। 

अमोल एक हरफनमौला कलाकार है। उन्होनें एक्टिंग, डायरेक्शन और पेंटिंग सहित हर विधा में काम किया हैं। आपको बता दें, उन्‍होंने जेजे स्‍कूल ऑफ फाइन आर्ट्स से पोस्‍ट ग्रैजुएशन करने के बाद करियर की शुरुआत बतौर पेंटर ही की थी। अमोल अक्‍सर कहते रहे हैं कि मैं प्रशिक्षण पाकर पेंटर बना, एक्सीडेंटल एक्‍टर बन गया, मजबूरी में प्रोड्यूसर बना और अपनी पसंद से डायरेक्‍टर बना। 

अमोल पालेकर इस 1970 के दशक में बॉलीवुड में अपनी एक अलग पहचान बनाई। वह बेहद ही सोच समझकर फ़िल्में करते थे। एक इंटरव्‍यू में उन्होंने बताया था कि वह दस में से नौ फिल्‍में रिजेक्‍ट कर देते थे। एक साधारण महाराष्ट्रीयन परिवार में जन्‍मे अमोल पालेकर ने बैंक में क्‍लर्क की नौकरी भी की थी। उनके परिवार का फिल्‍म से दूर-दूर तक कोई रिश्ता नहीं था। यहाँ तक कि स्‍कूल-कॉलेज के दिनों तक अमोल ने कभी नाटक तक नहीं किया था। उनके पिता पोस्‍ट ऑफिस में काम करते थे। उनकी मां प्राइवेट कंपनी में नौकरी करती थीं। अमोल ने बैंक ऑफ इंडिया में आठ साल तक नौकरी की। 

70 के दशक में बासु चटर्जी-अमोल पालेकर की जोड़ी वैसी ही बन गई, जैसी उसी दौर में मनमोहन देसाई-अमिताभ बच्‍चन की बनी थी। उन्‍होंने कैमरे के पीछे भी गजब की क्रिएटिविटी दिखाई। अमोल ने आकृत, थोड़ा सा रूमानी हो जाए, दायरा, कैरी, पहेली आदि फिल्‍मों और कच्‍ची धूप, नकाब, मृगनयनी जैसे टीवी सीरियलों के डायरेक्‍शन में अपना कमाल दिखाया। 

अमोल ने एक इंटरव्‍यू में कहा था कि जब मेरी शुरुआती तीन फिल्‍में सिल्‍वर जुबली हिट हो गई थीं, तब मेरे लिए नौकरी छोड़ना एकदम आसान हो गया था।  

इसलिए बन गए एक्टर  

अमोल पालेकर की गर्लफ्रेंड थिएटर में दिलचस्‍पी रखती थीं। जब वह थिएटर में रिहर्सल के लिए जातीं तो अमोल वहां उनका इंतजार किया करते। इसी सिलसिले में एक दिन थिएटर में सत्‍यदेव दुबे की नजर उन पर पड़ी। दुबे ने उन्‍हें मराठी नाटक ‘शांताता! कोर्ट चालू आहे’ में ब्रेक दिया। नाटक को काफी अच्‍छा रिव्‍यू मिला। इसके बाद सत्‍यदेव दुबे ने अमोल से कहा कि अब जब लोगों ने इसे गंभीरता से लिया है तो उन्‍हें एक्टिंग की ट्रेनिंग लेनी चाहिए। अगले नाटक के लिए उन्‍होंने अमोल को कड़ी ट्रेनिंग दी। इस तरह नाटकों में एक्टिंग का सिलसिला काफी आगे बढ़ गया। 

फिल्म 'पिंकी ब्यूटी पार्लर' का ट्रेलर नही देखा हो तो जरूर देखें

देखें, बॉलीवुड की 'चढ़ती जवानी' की हॉट फोटो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -