ओवैसी भाजपा की B टीम है, लेकिन हम उनके खिलाफ चुनाव नहीं लड़ेंगे ! हैदराबाद में ओवैसी का समर्थन करेगी कांग्रेस ?
ओवैसी भाजपा की B टीम है, लेकिन हम उनके खिलाफ चुनाव नहीं लड़ेंगे ! हैदराबाद में ओवैसी का समर्थन करेगी कांग्रेस ?
Share:

हैदराबाद: कांग्रेस ने आगामी लोकसभा चुनाव 2024 के लिए हैदराबाद में उम्मीदवार नहीं उतारने का फैसला किया है। सूत्रों ने ये जानकारी दी है। गांधी परिवार की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी का समर्थन करेगी, जो 4 बार के लोकसभा सांसद हैं। गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने हैदराबाद से कोम्पेला माधवी लता को ओवैसी के खिलाफ मैदान में उतारा है। औवेसी को समर्थन देने का कांग्रेस का फैसला कई लोगों के लिए आश्चर्य की बात है, क्योंकि पार्टी ने हमेशा उन्हें भाजपा की बी-टीम माना है। राहुल गांधी समेत कांग्रेस नेता कई मौकों पर भाजपा और औवेसी पर निशाना साध चुके हैं। 

 

मीडिया से बात करते हुए, तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव मोहम्मद फ़िरोज़ खान ने दावा किया कि तेलंगाना में अधिकांश सीटें कांग्रेस जीतेगी। उन्होंने कहा कि, सिकंदराबाद और हैदराबाद लोकसभा (सीटें) हैं। मेरा निर्वाचन क्षेत्र सिकंदराबाद में है, हैदराबाद में नहीं। हैदराबाद ओवेसी जीतेंगे, क्योंकि AIMIM और कांग्रेस पार्टी के बीच समझौता हो गया है। असदुद्दीन निश्चित तौर पर हैदराबाद जीतेंगे। 

 

कांग्रेस द्वारा असदुद्दीन ओवैसी को समर्थन देने की खबरों पर प्रतिक्रिया देते हुए, हैदराबाद से भाजपा उम्मीदवार कोम्पेला माधवी लता ने एक्स पर लिखा कि, “कांग्रेस AIMIM के साथ गठबंधन में थी, लेकिन दावा करती है कि यह (ओवैसी) भाजपा की बी टीम है, CPI बंगाल में INDI गठबंधन का हिस्सा है, लेकिन केरल में नहीं, AAP दिल्ली में गठबंधन है, लेकिन पंजाब में नहीं। कांग्रेस के साथ समस्या यह है कि उसे यह स्पष्ट नहीं है कि क्या करना है। कांग्रेस मुक्त भारत = प्रगति युक्त भारत।”

ओवैसी पर कांग्रेस के जुबानी हमले:-

हालांकि कांग्रेस आगामी लोकसभा चुनाव में औवेसी का समर्थन कर रही है, लेकिन पार्टी के दिग्गज नेताओं ने बार-बार दावा किया है कि भाजपा और औवेसी के बीच किसी तरह का गठबंधन है। नवंबर 2023 में, तेलंगाना विधानसभा चुनावों के लिए प्रचार करते समय, राहुल गांधी ने कहा था कि, "मोदी के दो यार, ओवैसी और केसीआर!"

दिसंबर 2018 में, राहुल गांधी ने कहा था कि, “TRS भाजपा की “बी” टीम है और केसीआर तेलंगाना में मोदी के रबर स्टैम्प के रूप में काम करते हैं। ओवैसी की AIMIM बीजेपी की "सी" टीम है, जिसकी भूमिका भाजपा/केसीआर विरोधी वोटों को विभाजित करना है। तेलंगाना के महान लोग, मोदी, केसीआर और औवेसी एक हैं। वे टेढ़ी-मेढ़ी भाषा में बात करते हैं। उनसे मूर्ख मत बनो!” लेकिन, अब भाजपा की B टीम को देश पर सबसे लंबे समय तक शासन करने वाली कांग्रेस समर्थन देने जा रही है, जनता इससे समझ सकती है कि ओवैसी का गठबंधन किसके साथ है। बता दें कि, लोकसभा चुनाव 2024 के लिए मतदान 19 अप्रैल से शुरू होकर सात चरणों में होंगे। तेलंगाना में चौथे चरण में 13 मई 2024 को मतदान होगा। आम चुनाव का अंतिम चरण 1 जून 2024 को होगा और परिणाम 4 जून 2024 को घोषित किए जाएंगे।

गर्लफ्रेंड के नए बॉयफ्रेंड को रास्ते से हटाने के लिए सनकी आशिक ने उठा लिया ये खौफनाक कदम

लोकसभा चुनाव से पहले बसपा को एक और झटका, RLD में शामिल हुए मायावती के भरोसेमंद सांसद मलूक नागर

इफ्तार पार्टी के लिए गए मुनव्वर फारुकी पर अचानक भीड़ ने फेंके अंडे, कॉमेडियन का हुआ ये हाल

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
Most Popular
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -