नवरात्री के दौरान घर में जरूर लाए ये 6 पौधे

इंतजार हुआ ख़त्म तथा नवरात्रि 2021 आ गया है। जी हां, इस वर्ष 7 अक्टूबर से नृत्य एवं भक्ति का त्यौहार आरम्भ हो गया है। अनजान व्यक्तियों के लिए, नवरात्रि नौ दिनों का पर्व है जो माता दुर्गा के नौ अवतारों को समर्पित है, जिनमें से हर की हर दिन पूजा की जाती है। 9 रातों के उत्सव के साथ, इन शुभ दिनों को तमाम परंपराओं तथा वजहों के साथ समर्पण तथा उत्साह के साथ मनाया जाता है। ये पर्व हिंदू चंद्र माह अश्विन के उज्ज्वल आधे के चलते आता है। इस वर्ष ये 7 अक्टूबर, सोमवार से आरम्भ हो गया है तथा 15 अक्टूबर, शुक्रवार तक चलेगा। वही ये कई मान्यताओं तथा परंपराओं के साथ एक बेहद ही पवित्र पर्व है। कुछ लोग कुछ नया आरम्भ करने में भरोसा रखते हैं तो कुछ कुछ नया खरीद लेते हैं। क्यूंकि इन खास दिनों को पवित्र माना जाता है, इसलिए कुछ चीजें हैं जिन्हें आपको अपने घर में सौभाग्य तथा समृद्धि लाने के लिए घर लाना चाहिए। ऐसा करने से न केवल महालक्ष्मी आप पर कृपा करेंगी बल्कि आप अपने आस-पास सकारात्मकता भी महसूस करेंगे।

1. तुलसी:- ये एक स्पिरिचुअल हीलिंग हाउस प्लांट माना जाता है। इसे माता लक्ष्मी के अवतार के तौर पर पूजा जाता है।

2. केला:- वास्तु एवं कुछ पवित्र शास्त्रों के मुताबिक, केले का पौधा बेहद शुभ होता है तथा कहा जाता है कि इस वृक्ष में देवताओं का निवास स्थान है। 

3. बरगद का पत्ता:- बरगद के वृक्ष को प्रभु श्री कृष्ण का विश्राम स्थल कहा जाता है। पवित्र शास्त्र बोलते हैं कि वैदिक भजन इसके पत्ते हैं। 

4. हरश्रृंगार (रात में फूलने वाली चमेली):- ये एक सुगंधित फूल है जो शाम को खुलता है तथा भोर में नष्ट होता है। ये समुद्र मंथन के परिणाम के तौर पर प्रकट हुआ। इसकी पत्तियों का इस्तेमाल आयुर्वेदिक एवं होम्योपैथी इलाज में किया जाता है।

5. शंखपुष्पी:- ये एक जादुई जड़ी बूटी है, जिसका इस्तेमाल जड़ों से लेकर कई युक्तियों तक किया जाता है। शंख अथवा शंख के आकार के फूल इसका नाम देते हैं।

6. धतूरा:- शैतान की तुरही के तौर पर भी कहा जाता है, इसकी सभी प्रजातियां जहरीली होती हैं। ये महादेव के अनुष्ठानों एवं प्रार्थनाओं में सम्मिलित है।

अमरावती दुर्गा मंदिर में दूसरे धर्म का किया जा रहा है प्रचार-प्रसार

नवरात्रि में व्रत के दौरान करे इन चीजों का सेवन, रहेंगे सेहतमंद

क्या है नवरात्रि में दुर्गा सप्तशती के पाठ का महत्व? जानिए पूरा तरीका

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -