अमरावती दुर्गा मंदिर में दूसरे धर्म का किया जा रहा है प्रचार-प्रसार

अमरावती: दशहरा समारोह के बीच विजयवाड़ा में देवी कनक दुर्गा के निवास इंद्रकीलाद्रिम में गुरुवार रात दशहरा समारोह के रिले के तुरंत बाद, एक स्थानीय टीवी चैनल द्वारा अन्य धर्मों के अभियानों को एलईडी स्क्रीन पर दिखाया गया। जिससे आक्रोशित श्रद्धालुओं ने कृष्णा नदी के किनारे सड़क के पास लगे एलईडी स्क्रीन को क्षतिग्रस्त कर दिया। वहीं एलईडी स्क्रीन पर अन्य धर्मों के प्रचार-प्रसार पर श्रद्धालुओं ने आक्रोश जताया। सूचना एवं जनसंपर्क विभाग ने दशहरा समारोह की लाइव स्क्रीनिंग का जिम्मा एक स्थानीय टीवी चैनल को सौंपा।

गुरुवार की रात दशहरा समारोह के रिले के तुरंत बाद एलईडी स्क्रीन पर अन्य धर्मों के अभियान दिखाई दिए। और आक्रोशित लोगों ने कृष्णा नदी के किनारे एक एलईडी स्क्रीन को क्षतिग्रस्त कर दिया। इस बीच, मंदिर के अधिकारियों ने घटना की जांच के लिए एक पुलिस शिकायत दर्ज की, ताकि यह स्पष्ट किया जा सके कि किसी अन्य धर्म का प्रचार जानबूझकर या गलती से किया गया था। विश्व हिंदू परिषद के नेताओं ने कार्यकारी अधिकारी डी ब्रह्मरम्बा से मुलाकात कर दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा। ईओ ने उन्हें आश्वासन दिया कि ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति को रोकने के लिए विशेष ध्यान दिया जाएगा।

कार्यपालक अधिकारी की शिकायत पर वन टाउन थाने में टीवी चैनल के खिलाफ मामला दर्ज कर सीसीटीवी फुटेज एकत्र कर जांच शुरू कर दी गई है। भाजपा नेता विष्णुवर्धन रेड्डी ने कनक दुर्गा मंदिर में दूसरे धर्म के प्रचार अभियान की निंदा करते हुए इसे बंदोबस्ती विभाग के अधिकारियों की लापरवाही बताया। उन्होंने दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

नमाज़ पढ़ रहे मुस्लिमों के बीच जाकर फट गया इस्लामिक स्टेट का आतंकी, 100 से ज्यादा की मौत

WHO का बड़ा बयान, कहा- "विश्व ने 2020 के मानसिक स्वास्थ्य लक्ष्यों में से अधिकांश..."

अमेरिकी सीनेट ने डिफ़ॉल्ट को टालने के लिए ऋण सीमा में अल्पकालिक वृद्धि को किया पारित

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -