खुले बाल से लेकर गीले कपड़ें तक, नवरात्र में महिलाओं को नहीं करने चाहिए ये काम

इन दिनों शारदीय नवरात्रि का पर्व चल रहा है और आज नवरात्रि का तीसरा और चौथा दिन है। आपको बता दें कि शारदीय नवरात्रि 7 अक्टूबर से प्रारंभ हो चुका है और नवमी तिथि 14 अक्टूबर को होगी। वहीं अगले दिन विजय दशमी का त्योहार मनाया जाएगा। जी दरअसल इस बार की नवरात्रि केवल 8 दिनों की है, क्योंकि पंचांग के अनुसार तृतीया तिथि और चतुर्थी तिथि एक ही दिन पड़ रही है। आप सभी जानते ही होंगे कि शारदीय नवरात्रि व्रत में माता रानी की पूजा में विशेष सावधानियां रखनी पड़ती हैं। इसी के साथ कई नियमों का खास पालन भी करना पड़ता है। कहते हैं जो लोग इन नियमों का पालन नहीं करते हैं, उन्हें उनके व्रत का पूरा-पूरा फल नहीं प्राप्त हो पता है। इस वजह से पूजा के दौरान महिलाओं को खास ध्यान रखना चाहिए और भूलकर भी ये काम नहीं करने चाहिए। आइए जानते हैं कौन से काम।


* कहा जाता है महिलायें खुले बाल में माता रानी की पूजा कभी न करें क्योंकि इससे उनके घर पर संकट आता है।

* कहते हैं महिलाओं को नवरात्रि व्रत में झूठ नहीं बोलना चाहिए।

* मां दुर्गा की पूजा में दुर्वा, आक, मदार, तुलसी, आंवला के फूल भूल से भी न चढ़ाये। इस दौरान महिलाओं को चाहिए कि वे मां को लाल फूल अर्पित करें।

* नवरात्रि में गीले वस्त्र पहनकर मां दुर्गा की पूजा करना अशुभ माना गया है। कहा जाता है अमंगल में गीले कपड़े पहनकर पूजा आदि करने की मान्यता है। महिलाओं को इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए।

* नवरात्रि में मां दुर्गा की पूजा पूर्व या उत्तर दिशा में मुख करके ही करें। वहीं पूजा कुश के आसन पर बैठकर करना उत्तम माना जाता है।

नवरात्रि के तीसरे दिन करें मां चंद्रघंटा का पूजन, जानिए मंत्र और भोग

अगर नहीं कर सकते दुर्गा सप्तशती का पाठ तो जरूर पढ़े यह, मिलेगा शुभ फल

आज इस आरती से करें माँ चंद्रघंटा को खुश

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -