Share:
केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का बड़ा खुलासा, प्रभावित सेक्टर्स को मिल सकता राहत पैकेज
केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का बड़ा खुलासा, प्रभावित सेक्टर्स को मिल सकता राहत पैकेज

लॉकडाउन ने भारतीय अर्थव्यवस्था को बुरी तरह प्रभावित किया है. वही, सरकार कोविड-19 को लेकर लागू लॉकडाउन से प्रभावित सेक्टर्स की हरसंभव मदद के लिए पैकेज लाने पर गंभीरता से विचार कर रही है और प्रधानमंत्री स्तर पर इस बारे में निर्णय किया जाएगा. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बुधवार को यह बात कही. रीयल एस्टेट से जुड़े उद्योग संगठन Nardeco से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत के दौरान MSME और सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री ने कहा, ''मैंने अपने विभाग की ओर से सुझाव भेज दिया है लेकिन प्रधानमंत्री और वित्त मंत्री इस बाबत अंतिम निर्णय करेंगे.'' 

RBI के ऐलान से बाज़ार फिर गुलज़ार, सेंसेक्स पहुंचा 32000 के पार

अपने बयान में आगे गडकरी ने कहा कि सरकार की ओर से लिए गए निर्णय को समय के साथ सार्वजनिक किया जाएगा. उन्होंने कहा कि सरकार उद्योगों के साथ मजबूती से खड़ी है. मंत्री ने कहा कि भारत सरकार विभिन्न मुद्दों पर विचार कर रही है. उन्होंने कहा कि सभी सेक्टर्स के लिए हरसंभव पैकेज पर गंभीरता से सोच-विचार किया जा रहा है और इस बारे में प्रधानमंत्री के स्तर पर निर्णय किया जाएगा. 

इस दिग्गज भारतीय टेलीकॉम कंपनी ने 5G के युग की तरफ बढ़ाया कदम

इसके अलावा गडकरी ने कहा कि सरकार कृषि, सूक्ष्म, लघु और मझोले उद्योग (MSMEs) के लिए अलग से नीति बना रही है. उन्होंने एग्रो-एमएसएमई के विचार को रेखांकित करते हुए उद्योग से कृषि से जुड़ी संभावनाएं तलाशने का आग्रह किया. वही, गडकरी ने इसके साथ ही एक बार फिर यह बात दोहराई कि वैश्विक समुदाय द्वारा चीन से दूरी बनाए जाने से पैदा होने वाले अवसर का लाभ उठाते हुए भारत अपना निर्यात और वृद्धि दर बढ़ा सकता है.  

क्या है FD और RD, जानें

इंदौर में शुरू हुआ मोबाइल एटीएम, विभिन्न क्षेत्रों में जाकर उपभोक्ताओं तक पहुंचाएगा कैश

आईटी कंपनी में काम करने का सपना रहेगा अधूरा, सामने आई बुरी खबर

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -