नायडू ने पेरू के राष्ट्रपति से द्वि पक्षीय समझौतों पर चर्चा की

लीमा : देश के उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू इन दिनों विदेश प्रवास पर हैं.वे मध्य अमेरिका की यात्रा के तीसरे चरण में शुक्रवार को पेरू पहुंचे. नायडू की पेरू यात्रा ऐसे समय हो रही है जब भारत और पेरू के राजनयिक संबंधों के 55 साल पूरे हो रहे हैं.नायडू सेंट्रल अमेरिका के ग्वाटेमाला, पनामा और पेरू के पांच दिवसीय दौरे पर हैं.

उल्लेखनीय है कि उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने शनिवार को पेरू के राष्ट्रपति मार्टिन विजकारा से भेंट की और उनके साथ व्यापार, विकासोन्मुख सहयोग , सांस्कृतिक संपर्क और बहुपक्षीय मुद्दों पर चर्चा की. बता दें कि पेरू में करीब एक महीने पहले ही नई सरकार सत्ता में आई है. नायडू इन लैटिन अमेरिकी देशों के साथ संबंधों को और मजबूत बनाने के मकसद से यह यात्रा कर रहे हैं.

इसके पूर्व उपराष्ट्रपति नायडू 7 मई को पनामा पहुंचे थे. जहाँ उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू और पनामा के राष्ट्रपति जुआन कार्लोस वेरेला की उपस्थिति में एमओयू पर हस्ताक्षर किए थे. उपराष्ट्रपति ने शिपिंग, वित्तीय एवं बैंकिंग क्षेत्र में लॉजिस्टिक से जुड़े विषयों पर सहयोग के बारे में चर्चा कर बायो-टेक्नोलॉजी के लिए क्रेडिट की 10 मिलियन डॉलर की लाइन और इनोवेशन सेक्टर के लिए 15 मिलियन डॉलर की पेशकश की.

यह भी देखें

महाभियोग : तकनीकी ख़ामियो का हवाला देकर वेंकैया ने नाकारा प्रस्ताव

उपराष्ट्रपति का कदम गैर क़ानूनी-सिब्बल

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -