मसलमानों में है सबसे ज्यादा युवा आबादी, जैन और सिख है सबसे बुजुर्ग

Jan 13 2016 07:03 PM
मसलमानों में है सबसे ज्यादा युवा आबादी, जैन और सिख है सबसे बुजुर्ग

नई दिल्ली: जनगणना के अनुसार, भारत में जिस तबके से सबसे ज्यादा युवा है, वो है मुस्लिम समुदाय और जिस समुदाय में सबसे अधिक बुजुर्ग है वो है सिख और जैन। जनगणना के आंकड़ो के मुताबिक 0-19 वर्ष तक की आयु के सबसे ज्यादा मुस्लिम है। भारत में किशोरावस्था के मुसलमान युवाओं की जनसंख्या 47 फीसदी है।

हिंदुओं में ये आबादी 40 फीसदी जब कि जैनों में ये आबादी 29 प्रतिशत है। बता दें कि यदि कुल जनसंख्या को मिला दिया जाए तो युवाओं की आबादी का प्रतिशत 41 हो जाता है। 60 साल से अधिक की उम्र वाले बुजुर्गों की आबादी केवल 9 प्रतिशत है। जबकि 20-25 आयु वर्ग की आबादी 50 प्रतिशत है। आंकड़ो के अनुसार, देश में अलग-अलग धर्मो में बच्चों के अनुपात में कमी आई है और बुजुर्गो की संख्या में बढ़ातरी देखी गई है।

2001 की जनगणना में युवा आबादी 44 प्रतिशत हिंदुओं के, 52 प्रतिशत मुसलमानों के और 35 प्रतिशत जैनों के थे। आंकड़ो के मुताबिक सबसे ज्यादा गिरावट हिंदु, इसाई और बौद्ध समुदाय में आई है। कहा जा रहा है कि बुजुर्गो के मामले में मुसलमानों की संख्या कम है। जैन और सिख धर्म में बुजुर्गों की जनसंख्या 12 प्रतिशत है, जो राष्ट्रीय औसत दर का 30 प्रतिशत है। इन समुदाय में युवाओं की संख्या कम है, इसलिए बुजुर्गो की संख्या ज्यादा है।