मंत्री उषा ठाकुर ने सातवें जल महोत्सव का शुभारंभ किया, श्रीकृष्ण लीला पर आधारित सांस्कृतिक आयोजन हुए

खंडवा। प्रदेश के खंडवा जिले के हनुमंतिया में सांतवे जल महोत्सव का शुभारंभ हुआ, मंत्री उषा ठाकुर ने इस जल महोत्सव का शुभांरभ किया। जल महोत्सव के सातवें संस्करण में दो माह 29 जनवरी तक वाटर बेस्ड एडवेंचर और साहसिक गतिविधियां होगी, जल महोत्सव का समापन 29 जनवरी 2023 को होगा। मंत्री ठाकुर ने कहा कि जिन 24 गांव के भाई-बहनों ने मध्यप्रदेश के विकास के लिए अपनी जन्मभूमि त्यागी उनकों मैं प्रमाण करती हूं तथा धन्यवाद देती हूं कि उन्होंने इतना बड़ा त्याग करके सहयोग प्रदान किया है। प्रभारी मंत्री ठाकुर ने कहा कि जल महोत्सव में स्थानीय शिल्प कला एवं व्यंजन और की जाने वाली अन्य गतिविधियां देश के साथ-साथ विदेशों में भी प्रसिद्ध हो गई है। हमारे यहां पाई जाने वाली जड़ी बुटियों से कोरोना काल में बहुत सहयोग मिला है। जल महोत्सव में पहले की अपेक्षा जो उन्नयन हुआ है वह आकर्षण का केन्द्र है। 

यहां बनाए गए काटेज पहले की अपेक्षा सुविधाजनक और सुंदर है। हमारे यहां होने वाले जल महोत्सव की धूम विदेशों में भी है। यहां के गांव वाले मेहमान नवाजी के लिए पूर्ण रूप से समर्पित रहते है। जल महोत्सव में यहां का भोजन, घोड़ा, गाड़ी, बैलगाड़ी आदि का आनंद भी पर्यटक लोग उठा सकेंगे, जिससे गांव वालों को रोजगार मिलेगा। मंत्री ठाकुर ने कहा कि यह नर्मदा नदी का किनारा है, यहां पर 5 पंडितों को बुलाकर प्रतिदिन संध्याकाल में नर्मदा आरती कराई जायें, ऐसी व्यवस्था किए जाने के लिए कहा गया है। कार्यक्रम में प्रभारी मंत्री ठाकुर द्वारा झण्डी दिखाकर सातवें जल महोत्सव का शुभारंभ किया गया। सागर से आए कलाकारों द्वारा श्री कृष्ण लीला पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर प्रमुख सचिव पर्यटन शिव शेखर शुक्ला द्वारा पर्यटन के संबंध में बताया कि हमारे यहां होने वाले जल महोत्सव को अंतर्राष्ट्रीय ख्याति मिल रही है। यहां पर पहली बार फ्लाईंग बोर्ड की व्यवस्था की गई है। उन्होंने सभी विभागों से अनुरोध किया है कि वो यहां पर मीटिंग एवं सेमिनार आयोजित करें, यहां पर वेडिंग सुविधाओं के साथ साथ शादी भी कर सकते है। यहां के लोगों द्वारा अपने साधनों से पर्यटकों को गांवों का भ्रमण करायें तथा खान-पान, कला, कौशल का तथा खेती बाड़ी का भ्रमण करायें, जिससे ग्रामीणों को भी आमदनी होगी और लोग यहां की कला को पहचान सकेंगे। पानी की भरपूर मात्रा होने से पहले की अपेक्षा अधिक सिंचाई हो रही है, जिससे कई गुना फसल अधिक हो रही है।

कार्यक्रम में सांसद ज्ञानेश्वर पाटील ने कहा कि हनुमंतिया के विकास तथा इंदिरा सागर बांध के लिए जिन 24 गांव के ग्रामीणों ने अपना सब कुछ त्यागा है वे धन्यवाद के पात्र है। कार्यक्रम के पूर्व में प्रभारी मंत्री ठाकुर द्वारा कन्या पूजन, दीप प्रज्जवलन कर व मॉं नर्मदा के चित्र पर माल्यार्पण किया गया। कार्यक्रम में सांसद ज्ञानेश्वर पाटील, मांधाता विधायक नारायण पटेल, खण्डवा विधायक देवेन्द्र वर्मा, पर्यटन विकास निगम के उपाध्यक्ष नरेन्द्र सिंह तोमर, कलेक्टर अनूप कुमार सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष कंचन बाई तनवे सहित विभिन्न जनप्रतिनिधि व अधिकारी मौजूद रहे।

शिप्रा नदी में मिला अज्ञात युवक का शव

एकतरफा इश्क में पागल हुआ शख्स, उठा लिया ये खौफनाक कदम

'नोटबंदी और जीएसटी ने लोगों की रीढ़ तोड़ दी', उज्जैन में बोले राहुल गांधी

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -