अर्जुन की तरह आतंकियों से लड़ते हुए शहीद हुए निरंजन, आज पंचतत्व में होंगे विलीन

Jan 04 2016 10:59 AM
अर्जुन की तरह आतंकियों से लड़ते हुए शहीद हुए निरंजन, आज पंचतत्व में होंगे विलीन

पंजाब : पठानकोट एयरफोर्स स्टेशन में हुए आतंकी हमले में लेफ्टिनेंट कर्नल निरंजन सिंह आतंकवादियों से लड़ते लड़ते वीरगति को प्राप्त हो गए. शहीद निरंजन का पार्थिव शरीर बंगलुरू पहुंच चूका है, करीब तीन बजे उनके पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा जिसके बाद उन्हें आखरी विदाई देते हुए अंतिम संस्कार किया जाएगा. शहीद निरंजन की शाहदत पर परिवार वालों ने कहा की उनका निरंजन अर्जुन की तरह कर्मभूमि में लड़ते-लड़ते वीर गति को प्राप्त हो गया है. जिसने मातृभूमि के लिए अपने प्राणो को न्योछावर कर दिया .

बता दे की शहीद निरंजन के पार्थिव शरीर को अंतिम संस्कार के लिए बंगलुरू से केरल के पालाक्कड़ ले जाया जाएगा. यहीं उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा. शहीद निरंजन के माता-पिता केरल के निवासी है. परिवार में पत्नी और एक 2 वर्षीय बच्चा है. निरंजन बंगलुरू में रहते थे. शहीद निरंजन के एक करीबी के मुताबिक बंगलुरू से उनका पार्थिव शरीर सड़क के रास्ते सोमवार को केरल के पालाक्कड़ लाया जाएगा, जिसे यहाँ के एक स्कूल में अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा. जानकारी है की शहीद निरंजन के अंतिम संस्कार में मुख्यमंत्री ओमन चांडी भी शामिल होंगे.

वही दूसरी और पठानकोट आतंकी हमले में शहीद गुरसेवक के पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार आज 11 बजे होगा. अंबाला में उनका अंतिम संस्कार किया जाना है. हरियाणा की खट्टर सरकार ने शहीद के परिवार वालो को बीस लाख रुपए की आर्थिक सहयता करने का ऐलान किया है.  साथ ही पठानकोट हमले में शहीद हुए जवानो की शहादत को न्यूज़ ट्रैक भी सलाम करता है.