मंगल पर इंसान को भेजेगा नासा, उसके पहले जारी की मुश्किलों की लिस्ट

मंगल पर इंसान को भेजेगा नासा, उसके पहले जारी की मुश्किलों की लिस्ट

वॉशिंगटन : अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने मंगल ग्रह पर कई सारी चीज़ों का पता लगाया है. इसमें ये भी पता चला है कि वहां पर काफी बड़े पहाड़ भी मौजूद हो सकते हैं. इसके बाद नासा अब मंगल पर इंसान को भेजने की तैयारी कर रहा है. मंगल पर जाना आसान नहीं है इसलिए नासा ने मंगल पर जाने वाले रास्ते में इंसान के बीच जो मुश्किलें आएंगी उसकी लिस्ट जारी है. इन मुश्किलों को पता करने के लिए नासा ने अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र और लैब में अध्ययन किया. उनके अनुसार 5 मुश्किलें हैं जो रास्ते में आ सकती हैं. वो हैं विकिरण, अलगाव, धरती से दूरी, गुरुत्वकर्षण और बंद वातावरण. 

वैज्ञानिकों ने खोजा पृथ्वी से दुगना बड़ा ग्रह

नासा के रिसर्चर के अनुसार किये गए शोध में उन्हें इस बात की जानकारी मिली है कि अंतरिक्ष में ज्यादा देर तक इंसान का शरीर और दिमाग कैसे काम करेगा. इसमें सबसे पहली मुश्किल है कि विकिरण यानी रेडिएशन जो इंसानी आँखों से देखा नहीं जा सकता. उनका मानना है कि दूसरे अंतरिक्ष यात्री को चाहे कितना भी प्रशिक्षण दिया लेकिन कुछ समय के बाद अंतरिक्ष में रहने पर व्यवहार में थोड़ी मुश्किलें आने लगती हैं. ऐसे में मंगल पर जाने वालों को बड़ी ही सावधानी से चुनना पड़ता है कि उसमें सतर्कता हो और उनमें कई साल तक अंतरिक्ष में रहने की क्षमता हो.

मंगल ग्रह पर चली लाल धूल-भरी आंधी, नासा ने भेजी तस्वीर

जानकारी के लिए आपको बता दें, धरती से मंगल की दूरी करीब 14 करोड़ मील है वहीं चाँद तक पहुँचने के लिए अंतरिक्ष यात्रियों को तीन दिन की यात्रा तय करनी होती है. अगर मंगल की बात करें तो उस तक का सफर तय करने में करीब तीन साल लग सकते हैं. मंगल पर अलग तरह के गुरुत्वाकर्षण का भी सामना करना होगा जो आम इंसान के लिए मुश्किल हो सकता है. 

खबरें और भी..

भारत करेगा चाँद पर हीलियम की खोज...

नासा ने निकाली एक प्रतियोगिता, जिसमें मांगे कार्बन डाइऑक्साइड के नए सुझाव