पहाड़ों में गूंजा वंदे मातरम का नारा, जांबाज ने फहराया चीन बॉर्डर पर तिरंगा

एवरेस्ट विजेता नरेंद्र सिंह यादव ने एक और उपलब्धि गुरुवार को हासिल कर अपने गांव लौटे। नरेंद्र 10 डिग्री के तापमान पर चाइना बॉर्डर के निकट करेरी ग्लेशियर के पहाड़ पर चढ़ कर गणतंत्र दिवस के दिन तिरंगा लहराया। आपको यह बता दें कि नरेंद्र सिंह एवरेस्ट विजेता होने के साथ-साथ 6000 मीटर से ऊपर की 57 पहाड़ियों-चोटियों पर सफलता हासिल कर चुके है। उसका अगल लक्ष्य सातों महाद्वीपों की सबसे उंची चोटियों पर फतेह करना है। गुरुवार को जब नरेंद्र सिंह अपने गांव पहुंचने तो गांव व आस-पास क्षेत्र के लोगों ने उनका स्वागत किया।

इस ग्लेशियर की चोटी पर आज तक कोई नहीं पहुंचा पाया हैं। नरेंद्र अपने गांव से 23 जनवरी को करेरी लेक ग्लेशियर पर फतेह करने को निकला था। और 26 जनवरी को अपनी टीम के साथ वह करेरी ग्लेशियर पर तक पहुंच गया और शाम को 5.27 बजे तक तिरंगा लहरा कर वंदेमातरम का गान किया, और पहाड़ो पर वंदेमातरम का नारा गूंज उठा। 

पर्वतारोही नरेन्द्र ने बताया कि पहाड़ में चड़ने के दौरान अनेक मुश्कियों का सामना भी करना पड़ा और जब बारिश होने लगी तो उस तेज बारिश में करीब 24 घंटे तक पैदल चलकर करेरी लेक तक पहुंचा। और फिर 36 घंटे तक मैसमी कठिनाइयों का सामना करते हुए 10 डिग्री तापमान में करेरी ग्लेशियर पर पहुंचा। नरेन्द्र ने यह भी बताया कि मौसमी खराब के कारण उसको और उनकी टीम को वहा से वापस लौटने में करीब 60 घंटों का समय लगा था।

 

सोशल मीडिया कंपनी का भण्डाफोड़, 3700 करोड़ का घोटाला हुआ उजागर

सामने से आ रही महिला की ट्रैन ड्राइवर ने इस तरह से बचाई जान, देखिये विडियो

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -