इस पावन आरती से करें माँ कात्यायनी को खुश

Oct 21 2020 05:36 PM
इस पावन आरती से करें माँ कात्यायनी को खुश

इस समय शारदीय नवरात्रि चल रहे हैं और कल यानी 22 अक्टूबर को नवरात्रि का छठवां दिन है। आप जानते ही होंगे कि नवरात्रि का छठवां दिन माँ कात्यायनी को समर्पित होता है। जी दरअसल कात्यायनी माँ का पूजन बहुत ही धूम धाम से किया जाता हैं जिससे वह खुश होकर सभी मनोकामनाओं को पूर्ण करें। ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं माँ कात्यायनी की आरती। जी दरअसल वह आदिशक्ति श्री दुर्गा का छठवां रूप हैं और उनके पूजन से सभी संकटों का नाश हो जाता है। वहीँ उनके पूजन के दौरान उनकी आरती जरूर करना चाहिए क्योंकि इससे बड़े बड़े काम आसनी से बन जाते हैं। तो आइए आज जानते हैं माँ कात्यायनी की आरती।


माँ कात्यायनी की आरती-

जय जय अंबे जय कात्यायनी ।
जय जगमाता जग की महारानी ।।

बैजनाथ स्थान तुम्हारा।
वहां वरदाती नाम पुकारा ।।

कई नाम हैं कई धाम हैं।
यह स्थान भी तो सुखधाम है।।

जय जय अंबे जय कात्यायनी ।
जय जगमाता जग की महारानी ।।

हर मंदिर में जोत तुम्हारी।
कहीं योगेश्वरी महिमा न्यारी।।

हर जगह उत्सव होते रहते।
हर मंदिर में भक्त हैं कहते।।

जय जय अंबे जय कात्यायनी ।
जय जगमाता जग की महारानी ।।

कात्यायनी रक्षक काया की।
ग्रंथि काटे मोह माया की ।।

झूठे मोह से छुड़ानेवाली।
अपना नाम जपानेवाली।।

जय जय अंबे जय कात्यायनी ।
जय जगमाता जग की महारानी ।।

बृहस्पतिवार को पूजा करियो।
ध्यान कात्यायनी का धरियो।।

हर संकट को दूर करेगी।
भंडारे भरपूर करेगी ।।

जो भी मां को भक्त पुकारे।
कात्यायनी सब कष्ट निवारे।।

जय जय अंबे जय कात्यायनी ।
जय जगमाता जग की महारानी ।।

फ्लू की वैक्सीन ने ली 5 लोगों की जान, टीका लगाने पर लगा प्रतिबन्ध

HAPPY NAVRATRI DAY 7 : महासप्‍तमी के दिन ऐसे करें मां कालरात्रि की पूजा

बेहद ही शानदार है नोकिया के ये हेडफोन्स, सामने आई कीमत