महिला मुक्केबाजी विश्व चैम्पियनशिप में लवलीना को करना पड़ा हार का सामना

टोक्यो ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता लवलीना बोरगोहेन का IBA विश्व चैम्पियनशिप के 70 किग्रा वर्ग में अभियान शुक्रवार को प्री क्वार्टरफाइनल में मिली निराशाजनक हार के साथ खत्म हो चुका है जबकि साथी भारतीय मुक्केबाज पूजा रानी (81 किग्रा) ने इस्तांबुल में अंतिम 8 चरण में स्थान बनाया है। बीते वर्ष  टोक्यो में पोडियम स्थान हासिल करने वाली लवलीना अपनी पहली इंटरनेशनल प्रतियोगिता खेल रही थीं। लेकिन वह प्री क्वार्टरफाइनल में ‘फेयर चांस टीम’ (एफसीटी) की सिंडी एनगाम्बा से 1-4 से हार चुकी है।

वहीं 2 बार की एशियाई चैम्पियन पूजा ने शुरूआती मुकाबले में हंगरी की टिमिया नागी को 5-0 से मात दे दी है। बता दें कि अब भिवानी की इस मुक्केबाज का सामना सोमवार को क्वार्टरफाइनल में आस्ट्रेलिया के जेसिका बागले के साथ होने वाला है। जिसके पूर्व असम की 24 साल की लवलीना ने आक्रामक शुरूआत की लेकिन वह अपना सर्वश्रेष्ठ नहीं कर सकीं और एफसीटी की सिंडी से हार गयीं लवलीना ने पहले दौर में पूर्व विश्व चैम्पियन चेन निएन चिन को मात दी थी।

इससे पूर्व भी टोक्यो ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता लवलीना बोरगोहेन ने सोमवार को लाइट मिडलवेट वर्ग में पूर्व चैंपियन चेन निएन चिन को हराकर इस्तांबुल में चल रही IBA वुमन वर्ल्ड मुक्केबाजी चैंपियनशिप के राउंड आफ 16 में स्थान बना लिया है। बीते वर्ष तोक्यो ओलंपिक में पदक जीतने के उपरांत पहली बार प्रतिस्पर्धी टूर्नामेंट में भाग ले रही लवलीना (70 किग्रा) ने चीनी ताइपे की मुक्केबाज को खंडित फैसले में 3-2 से मात दी है।

लाबुशेन की गेंद पर बेन स्टोक्स हुए धड़ाम, पेट पर गेंद लगते ही जमीन पर गिरे, Video

इस कारण से विराट ने घटाया वजन, फिर कही ये बात

क्या प्लेऑफ में जगह बना पाएगी RCB ? आज पंजाब के साथ 'करो या मरो' का मुकाबला

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -