अमेरिका सुनेगा अब कैलाश खेर की आवाज

By Deepika Bakawle
Sep 26 2015 11:56 AM
अमेरिका सुनेगा अब कैलाश खेर की आवाज

सूफी गानो के बादशाह कैलाश खेर ने बॉलीवुड मे अपनी एक अलग पहचान बनाई है। अब वे पूरी दुनिया को अपनी आवाज सुनाने वाले है। कैलाश खेर ने 'बम लहरी', 'अल्लाह के बंदे', 'रंग दीनी' और 'तेरी दीवानी' जैसे बेहतरीन गाने गाये है। कैलाश खेर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिये भी अब गाना गाने वाले है। 27 सितंबर को कैलाश खेर अमेरिका की सिलिकॉन वैली मे अपना लाइव परफ़ोमेंस देने वाले है। कैलाश खेर को इस मुकाम तक पहुँचने के लिये बहुत कड़ी मेहनत करना पड़ी है। इंडस्ट्री मे इतना अच्छा मुकाम पाना कोई आसान बात नहीं है जब कैलाश हारने लगे थे तब उन्होने एक बार सुसाइड करने का भी सोच लिया था। लेकिन कैलाश खेर ने खुद को हारने नहीं दिया और आज वे अच्छी जगह पर है। 

कैलाश खेर का जन्म 7 जुलाई 1973 को हुआ था। कैलाश खेर के हर गाने का जादू लोगो पर चला है। कैलाश ने अपने सूफी गानो से सबका दिल जीता है। मुंबई मे कैलाश ने बहुत सारी मुसीबते झेली है। कैलाश खेर के पिता पंडित मेहर सिंह खेर एक मिल मे काम करते थे। कैलाश खेर ने बचपन से ही संगीत की शिक्षा लेना शुरू कर दिया था। कैलाश खेर ने बच्चो को गायकी भी सिखाई है अपना खर्चा चलाने के लिये।

कैलाश खेर ने अपने परिवार और दोस्तो के साथ मिलकर बिजनेस शुरू किया था पर उनका बिजनेस पूरी तरह से बर्बाद हो गया इस घटना ने कैलाश को पूरी तरह से तोड़ कर रख दिया था। कैलाश अपनी जिंदगी भी खत्म करने वाले थे पर किसी तरह से उन्होने खुद को संभाला और अपने जीवन मे आगे बढ़े।