किसानों को मिली दिल्ली आने की अनुमति, साथ चलेगी दिल्ली पुलिस की टीम

By Nikki Chouhan
Nov 27 2020 02:16 PM
किसानों को मिली दिल्ली आने की अनुमति, साथ चलेगी दिल्ली पुलिस की टीम

नई दिल्ली: पंजाब से दिल्ली कूच के लिए निकले कृषक अपनी मांगों पर टिके हुए हैं। सिंधु बॉर्डर पर कृषकों तथा पुलिस के मध्य जंग हुई है, यहां पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े हैं। अब इस प्रदर्शन का प्रभाव यूपी में दिखने लगा है तथा मेरठ-मुजफ्फनगर में हाइवे जाम किया गया है। सिंधु बॉर्डर पर कृषकों तथा पुलिस के मध्य जारी भिड़ंत के मध्य बड़ी जानकारी सामने आई है। अब कृषकों को सिंधु बॉर्डर पार करने की मंजूरी प्राप्त हो गई है। दिल्ली पुलिस की एक टीम कृषकों के साथ-साथ रहेगी तथा उनपर निगरानी बनाए रखेगी।

भारतीय किसान यूनियन के राकेश टिकैत का कहना है कि हम उत्तर प्रदेश से दिल्ली की तरफ मार्च करेंगे या नहीं, शीघ्र ही तय होगा। हम केंद्र सरकार के विरुद्ध जंग लड़ रहे हैं। राकेश टिकैत ने किसानों पर उठाए गए हरियाणा सरकार के कदम की निंदा की। पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने केंद्र सरकार से आग्रह किया है कि वो किसानों से तत्काल बात करे तथा प्रदर्शन को रोके। अमरिंदर ने कहा कि किसानों की आवाज को दबाया नहीं जा सकता है, सरकार 3 दिसंबर तक क्यों प्रतीक्षा कर रही है। 

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने ट्वीट कर आरोप लगाया है कि राहुल गांधी द्वारा उनके संसदीय इलाके वायनाड में जो राहत सामग्री दी गई थी, वो गोदाम में खराब हो रही है। प्रकाश जावड़केर ने कहा है कि राहुल को ट्विटर पर सियासत करने की जगह अपने इलाके में ध्यान देना चाहिए।

दिल्ली पुलिस को केजरीवाल सरकार से लगा झटका, ठुकराई किसानों के लिए अस्थाई जेल बनाने की मांग

भारतीय रेलवे ने 31 दिसंबर तक जारी की फेस्टिवल के लिए स्पेशल ट्रेनें

SARS-CoV-2 वायरस मानव कोशिकाओं पर एक रिसेप्टर से चिपक जाता है: अध्ययन