मारुति सुजुकी ने मंदी से निपटने के लिए बनाया बड़ा प्लान, ये है डिटेल्स

मारुति सुजुकी ने मंदी से निपटने के लिए बनाया बड़ा प्लान, ये है डिटेल्स

अपना उत्तरदायित्व निभाने को पूरी तरह से देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी  मंदी के दौर में तैयार है. मारुति ना सिर्फ बड़े पैमाने पर विस्तार करने की तैयारियों में जुटी है, बल्कि इलेक्ट्रिक कार बाजार के हिसाब से भी अपनी तैयारियों को अंतिम रूप दे रही है. सरकारी कर्मचारियों व शिक्षकों को नई कार खरीदने के लिए लुभाने की नई कोशिश शुरू की गई है. ग्रामीण क्षेत्र में ऑटो लोन की उपलब्धता बढ़ाने के लिए कंपनी क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों के जरिए कर्ज वितरित करने की भी तैयारी में है. आइए जानते है पूरी जानकारी विस्तार से

Coolie No.1 के सेट पर लगी आग के बारे में प्रोड्यूसर जैकी ने दी जानकारी

मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर (मार्केटिंग व सेल्स) शशांक श्रीवास्ताव ने को बताया कि फेस्टिवल सीजन बाजार की मंदी को दूर करने का सबसे सही समय है. इस बार दो बातें सकारात्मक दिख रही है. एक तो आरबीआइ ने बैंकों के लिए खुदरा लोन को रेपो रेट से जोड़ने का निर्देश दिया है जिसके वजह से आटो लोन के भी सस्ता होने की पूरी उम्मीद है.

गणेश विसर्जन कोट्स 2019:- गणेश विसर्जन के शुभ मौके पर अपने प्रियजनों को भेजें शुभ संदेश

ग्रामीण क्षेत्र की हिस्सेदारी मारुति सुजुकी की कुल बिक्री में लगभग 25 फीसद के करीब है. ग्रामीण क्षेत्रों में नए ग्राहक बनाने के लिए क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों के जरिए आटो लोन वितरित करवाने की योजना है. हाल के दिनों में कई तरह की वजहों से गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों की तरफ से वितरित होने वाले कर्जे की रफ्तार काफी कम हो गई है. भारत में तकरीबन 80-85 फीसद कारें आटो लोन के जरिए बिकती हैं. मारुति सुजुकी का मानना है कि क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों के जरिए इस समस्या का समाधान कुछ हद तक निकाला जा सकता है. श्रीवास्तव के मुताबिक, ‘चुनौतीपूर्ण समय में हम हर तरह से नई चीजें आजमाने की कोशिश में है। मसलन, ग्राहकों को उनके घर पर या उनके कार्यालय पर कार देखने या उसे ड्राइव करने की सुविधा की शुरुआत कर चुके हैं.’

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मारुति सुजुकी ने हाल ही में XL-6 MPV को लॉन्च किया है और इस महीने के अंत तक S-Presso नाम से एक नई कार भारतीय बाजार में उतारने जा रही है. इस तरह से त्योहारी सीजन में मारुति सुजुकी की दो नई कारें बाजार में होंगी. इससे भी ग्राहकों को आकर्षित करने में मदद मिलेगी. इससे साफ है कि मंदी के बावजूद नए उत्पाद लांच करने की तैयारियों पर कोई असर नहीं पड़ा है. गुजरात में कंपनी की नई फैक्ट्री की तीसरी मैन्यूफैक्चरिंग लाइन भी अगले वर्ष के शुरुआत में चालू हो जाएगी. डीलरों की बढ़ी हुई लागत को देखते हुए मारुति सुजुकी देश भर में 100 नए शो-रूम व वर्कशॉप बनाकर उन्हें लीज पर डीलरों के बीच आवंटित करेगी. कंपनी ने इसका फैसला पिछले वर्ष किया गया था. 3,000 वर्ग फीट से 5,000 वर्ग फीट क्षेत्रफल वाले इन शो-रूम का निर्माण काम तेजी से चल रहा है और अगले वित्त वर्ष से लॉटरी के जरिये इनका आवंटन किया जाएगा.

घाटे ने तोड़ी उबर की कमर, कंपनी ने 435 कर्मचारियों को नौकरी से निकाला

अब अपराधियों की खैर नहीं, 14 साल बाद अपने क्रिमिनल मैन्युअल में बड़ा बदलाव करेगी CBI

पद्म सम्मान से नवाज़ी जाएंगी देश की नौ बेटियां, खेल मंत्रालय ने प्रस्तावित किए नाम