B.Com लेने से पहले जान ले ये जरुरी बातें

B.com मतलब बैचलर ऑफ़ कॉमर्स जो कि एक स्नातक पाठ्यक्रम है, जैसा कि 11वी में आर्ट लेने वालों के लिए प्रथम विकल्प होता है BA, ठीक उसी तरह 11वी-12वी में कॉमर्स पढ़ने वाले विद्यार्थियों के लिए बी।कॉम पहला विकल्प होता है। B.com भी एक ग्रेजुएट प्रोग्राम है जिसे करने के पश्चात् आप ग्रेजुएट कहलाते हैं।

B.com में प्रवेश कैसे मिलेगा:-
अगर आपने सफलतापूर्वक 12th कॉमर्स से उत्तीर्ण की है तो आप बी कॉम में प्रवेश लेने के पात्र हैं। सामान्यतः B.com में प्रवेश के लिए कोई प्रवेश परिक्षा आयोजित नहीं की जाती मगर यदि आप देश के कुछ जाने माने कॉमर्स कॉलेज में एडमिशन चाहते हैं तो आपको उनके द्वारा आयोजित प्रवेश परिक्षा से होकर गुजरना होगा। इसके साथ-साथ कुछ यूनिवर्सिटी में आपके 12वी के नंबर के आधार पर भी एडमिशन प्राप्त होता है।

B.com के subject क्या होते हैं?
बीकॉम एक accounting based course जिसमे निम्न विषय होते हैं
बूकिपिंग
इकोनॉमिक्स
इंग्लिश
मैथ्स
बिज़नस लॉ
बैंकिंग
इनकम टेक्स
इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी
आदि

बीकॉम से जुड़ी अन्य जानकारी:-
यह 3 वर्षीय पाठ्यक्रम होता है।
बीकॉम प्लान, बीकॉम टेक्स, बीकॉम कंप्यूटर एप्लीकेशन, बीकॉम ओनर्स भी विकल्प होते हैं।
B.com करने के लिए आपको अकाउंट का बेसिक नॉलेज होना आवश्यक हैं।
आप इसे रेगुलर अथवा प्राइवेट दोनों प्रकार से कर सकते हैं।
इस कोर्स की फ़ीस लगभग 15 हजार प्रति वर्ष से आरम्भ होती हैं।

'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' के इस अभिनेता का हुआ एक्सीडेंट

पूर्व केंद्रीय मंत्री ऑस्कर फर्नांडिस का दुखद निधन, मंगलोर के अस्पताल में ली अंतिम सांस

पहली फिल्म को अभिशाप मानते हैं आयुष्मान, आज हैं सुपरहिट अभिनेता

- Sponsored Advert -

Most Popular

मुख्य समाचार

- Sponsored Advert -