केरल के मशहूर फिल्म डायरेक्टर अली अकबर ने किया 'इस्लाम' छोड़ने का ऐलान, बताई ये वजह

कोच्ची: चीफ ऑफ़ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत सहित 13 वीरों के बलिदान पर एक तरफ पूरे देश में मातम पसरा हुआ है, वहीं, दूसरी तरफ कुछ कट्टरपंथी, देश के असली हीरो के निधन पर अट्टाहास कर रहे हैं। इससे आहत होकर केरल के मलयाली फिल्मों के डायरेक्टर अली अकबर ने इस्लाम को छोड़ हिंदू धर्म में वापसी करने की घोषणा कर दी है। फेसबुक लाइव पर डायरेक्टर अली अकबर ने कहा कि वे इस्लाम का परित्याग कर रहे हैं।

 

अली अकबर ने कहा कि CDS बिपिन रावत के बलिदान के बाद कई लोग फेसबुक पर जश्न मना रहे थे, जिसके विरोध में वो इस्लाम को ही छोड़ रहे हैं। रिपोर्ट के अनुसार, 8 दिसंबर 2021 को CDS बिपिन रावत के निधन के बाद अकबर ने फेसबुक पर एक लाइव वीडियो शूट किया था, किन्तु फेसबुक ने उसे नस्लीय बताकर फिल्म डायरेक्टर के अकाउंट को एक माह के लिए सस्पेंड कर दिया। इसके बाद फिल्म निर्देशक ने दूसरा फेसबुक अकाउंट बनाया और उसके माध्यम से लाइव आकर इस्लाम त्यागने का ऐलान कर दिया।

फेसबुक के माध्यम से CDS रावत को श्रद्धांजलि अर्पित करने वाले फिल्म डायरेक्टर ने कहा कि, 'यह स्वीकार नहीं किया जा सकता है। इसलिए मैं अपना धर्म छोड़ रहा हूँ, न मेरा और न ही मेरे परिवार का कोई और धर्म है।' उन्होंने फेसबुक लाइव में कहा कि, 'मैं उन कपड़ों का एक टुकड़ा फेंक रहा हूँ, जिनके साथ मैं जन्म था।' दरअसल, जब अली अकबर ने CDS रावत की वीरगति पर लाइव वीडियो बनाना आरंभ किया तो कुछ कट्टरपंथी मुस्लिमों ने उनके वीडियो पर हजारों की तादाद में लॉफिंग की इमोजी लगाकर इसका मजाक उड़ाया, जिससे उनकी भावनाओं को ठेस पहुंची।

 

इस मामले पर एक ट्विटर यूजर प्रतीश विश्वनाथ ने बताया है कि मलयालम के मशहूर फिल्म निर्देशक अली अकबर हिंदू धर्म अपना रहे हैं और अपना नाम बदलकर रामसिम्हन रख रहे हैं। इस्लाम की मौजूदा पीढ़ी को देखकर बहुत अच्छा लगा, जिनके पूर्वजों को बलपूर्वक परिवर्तित किया गया था, वे वापस जड़ों की तरफ लौट रहे हैं।

अंशुल सक्सेना ने 'मुस्लिम' नाम रखकर CDS बिपिन रावत को दी गाली ?

वीरों की 'शहादत' पर मौन, सोनिया के बर्थडे पर बधाई... यही सिद्धू हैं इमरान खान के छोटे भाई

शहीदों का अपमान, CDS बिपिन रावत के निधन पर केरल सरकार की वकील ने उगला जहर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -