'आप' कार्यकर्ता अब नहीं कर सकेंगे ट्वीट

नई दिल्ली: सीएम अरविन्द केजरीवाल सोशल मीडिया पर बेहद एक्टिव रहते हैं, यहाँ तक कि वे केंद्र और पीएम मोदी के खिलाफ सोशल मीडिया को एक हथियार के रूप में इस्तेमाल करते रहे हैं. लेकिन अब दिल्ली सरकार ने अपने कार्यकर्ताओं को सोशल मीडिया से दुरी बनाने के निर्देश दिए है. दिल्ली परिवहन विभाग के अधीन आने वाले दिल्ली ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन ने एक सर्कुलर निकालकर बीते दिनों ट्वीट करने वाले कई कर्मचारियों पर जांच बैठा दी है, इस सर्कुलर में ट्वीट के स्क्रीनशॉट लगाए गए हैं और ट्वीट करने वालों पर कार्यवाही करने की बात कही गई है.

दरअसल,  दिल्ली विधानसभा पर संविदा कर्मचारियों ने मजदूर दिवस के दिन प्रदर्शन किया था. उस समय समान काम और समान दाम को लेकर की मांग को लेकर कई डीटीसी कर्मचारियों ने परिवहन मंत्री अशोक गेहलोत को टैग करते हुए ट्वीट किया था, यह बात सम्बंधित विभाग के आला अधिकारीयों को रास नहीं आई और उन्होंने ट्वीट के स्क्रीनशॉट लेकर जांच के लिए परिवहन विभाग में भेज दिए, साथ ही ट्वीट करने वालों को पहचान कर उनपर कार्यवाही करने के निर्देश भी दे दिए.

दरअसल बीते कई समय से संविदा पर काम कर रहे हजारों डीटीसी कर्मचारी प्रदर्शन कर रहे हैं. इनकी मांग है कि अरविंद केजरीवाल सरकार ने चुनाव के पहले इन्हें परमानेंट करने का भरोसा दिलाया था, जो अब 3 साल बाद भी पूरा ना हो सका. इसके लिए डीटीसी कर्मचारी सोशल मीडिया पर अपना विरोध दर्ज करते रहते हैं, लेकिन अब दिल्ली सरकार ने अपने कर्मचारियों को सोशल मीडिया पर इसका जवाब देने के लिए मना कर दिया है. 

 कर्नाटक चुनाव: फेक न्यूज़ से गरम सोशल मीडिया

पत्रकार ने पीएम के खिलाफ डाली बेहद अश्लील पोस्ट

WhatsApp पर ऐसे करें खुद को Unblock

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -