Share:
'इस्लाम कबूल करो वरना...', कट्टरपंथियों ने खोजा धर्मान्तरण का हैरान करने वाला तरीका, औरतें भी शामिल
'इस्लाम कबूल करो वरना...', कट्टरपंथियों ने खोजा धर्मान्तरण का हैरान करने वाला तरीका, औरतें भी शामिल

बैंगलोर: कर्नाटक पुलिस ने हनी ट्रैपिंग मामले में मुंबई से एक मॉडल को गिरफ्तार किया है। गिरोह ने पीड़ितों को इस्लाम कबूल करने और खतना कराने की धमकी देकर मोटी रकम वसूली थी। यह घटना बेंगलुरु के पुत्तेनहल्ली पुलिस स्टेशन की सीमा में हुई थी। रिपोर्ट के अनुसार, गिरफ्तार मॉडल की पहचान नेहा उर्फ मेहर के रूप में हुई है और प्रारंभिक जांच से पता चला है कि वह इस मामले में मुख्य आरोपी है। पुलिस ने बताया है कि नेहा उर्फ मेहर ने टेलीग्राम के जरिए बेंगलुरु में 20 से 50 साल की उम्र के भोले-भाले लोगों को शिकार बनाया। उसने उन्हें जेपी नगर स्थित अपने आवास पर यौन संबंध बनाने का लालच दिया। जैसे ही वे उसके घर में दाखिल होते थे, वह उन्हें बिकिनी पहनकर अंदर बुलाती थी।

 

इसके बाद गिरोह के लोग, उन लोगों के निजी पलों को चुपके से कैमरे में कैद कर लेते थे, कई बार गिरोह के लोग,  घर के अंदर घुस जाते थे और लड़की के साथ पीड़ितों की तस्वीरें और वीडियो लेते थे। गिरोह के सदस्य पीड़ित का मोबाइल छीन लेते थे और सभी संपर्क नोट कर लेते थे। वे धमकाते थे कि अगर वे पैसे नहीं दे रहे हैं तो वे उनके निजी वीडियो और तस्वीरें उनके सभी संपर्कों को भेज देंगे। वे पीड़ितों से मॉडल से शादी कराने की मांग करते थे। आरोपी इसके लिए भी धमकाते थे कि, पीड़िता से शादी करने के लिए उन्हें इस्लाम कबूल करना होगा, क्योंकि वह एक मुस्लिम है। वे पीड़ितों से कहते थे कि पीड़ितों का तुरंत खतना कराया जाए। पीड़ित इन मांगों से घबरा जाते थे और आरोपियों को मोटी रकम दे देते थे।

एक पीड़ित द्वारा साहस जुटाकर पुलिस में शिकायत दर्ज कराने के बाद गिरोह के खिलाफ एक्शन शुरू हुआ। प्रारंभिक जांच से पता चला है कि गिरोह ने 12 लोगों से जबरन वसूली की है। पुलिस इस गिरोह के और भी मामलों में शामिल होने की आशंका जता रही है और जांच कर रही है। पुलिस ने पहले इस मामले में शरणा प्रकाश बालिगेरा, अब्दुल खादर और यासीन को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने दूसरे आरोपी नदीम की तलाश शुरू कर दी है। बता दें कि, कर्नाटक में कांग्रेस ने सत्ता में आते ही पूर्व की सरकार द्वारा अवैध धर्मान्तरण रोकने के लिए बनाया गया धर्मान्तरण विरोधी कानून हटा दिया है, जिससे कट्टरपंथियों को लोगों का धर्मान्तरण करने की खुली छूट मिल गई है और वे इसके लिए तरह-तरह के तरीके अपना रहे हैं। 

ऑनलाइन गेमिंग, शादी, ब्रेनवाश के जरिए धर्मांतरण :-

बता दें कि, इससे पहले देश के विभिन्न इलाकों से धर्मान्तरण के चौंकाने वाले मामला सामने आए हैं, लेकिन कर्नाटक वाला केस सबसे अलग है। इससे पहले कट्टरपंथी, ऑनलाइन गेम के जरिए भोले-भाले बच्चों को भी शिकार बना रहे थे। पहले ये कट्टरपंथी, गेम में बच्चों को हराते थे, बाद में उन्हें इस्लामी दुआएं पढ़ने को कहते थे, जिसके बाद वे खुद बच्चों को जीता देते थे और कहते थे कि ये इस्लाम की ताकत है, इस तरह से कट्टरपंथियों ने ब्रेनवाश कर कई बच्चों को मुस्लिम बना दिया था। लव जिहाद के बारे में आप सभी जानते ही हैं, नाम छिपाकर मित्रता करना, फिर प्रेमजाल में फंसाकर शादी करना और फिर शादी के बाद अपना असली रूप दिखाते हुए लड़की को धर्मान्तरण करने के लिए मजबूर करना, न मानने पर उसका क़त्ल कर देना या उसे प्रताड़ित करना, ऐसे काफी केस भारत में सामने आ चुके हैं। इसके अलावा लालच देकर, डरा-धमकाकर, ब्रेनवाश करके, कई तरीकों से लोगों का धर्मान्तरण किया जा रहा है, जो देश के लिए एक बड़ी समस्या है, क्योंकि मध्य प्रदेश के जबलपुर से कई ऐसे आतंकी भी पकड़ाए हैं, जो पहले हिन्दू हुआ करते थे, उनका ब्रेनवाश कर उन्हें पहले मुस्लिम बनाया गया और फिर आतंकी। इसके बाद ये लोग, दूसरे गैर-मुस्लिमों को भी आतंक के रास्ते पर धकेलने के मिशन में जुटे हुए थे। इस तरह ये कट्टरपंथी, भारत के ही लोगों को भारत के खिलाफ लड़ाने की साजिश रच रहे हैं, जिसके खिलाफ जल्द से जल्द सख्त कदम उठाने की आवश्यकता है। 

घर में घुसकर नाबालिग लड़की को खेत में ले गए 6 बदमाश, फिर जो किया उसे जानकर काँप उठेगी रूह

इंदौर में देर रात युवा इंजीनियर का सरेआम बदमाशों ने किया क़त्ल, 2 महीने पहले ही हुई थी शादी

पत्नी की एक गलती ने ली पति की जान, चौंकाने वाला है मामला

रिलेटेड टॉपिक्स
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -