कलयुगी बेटे ने पिता को उतारा मौत के घाट

जबलपुर। जिले में मानसिक रूप से पीड़ित पिता को कलयुगी बेटे ने हत्या कर मौत के घाट उतार दिया। मानसिक रूप से कमजोर पिता घर और बिस्तर पर गंदगी कर देते थे । जिससे परेशान होकर कलयुगी बेटे ने अपने ही पिता की हत्या कर दी। 

पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा ने बताया पनागर थाना अंतर्गत ग्राम कसीह निवासी गुड्डी बाई ने अज्ञात व्यक्ति द्वारा उसके पति की हत्या किए जाने की सूचना पुलिस को दी थी। उसने पुलिस को बताया कि 26 नवंबर को वह तथा उसका पति मुन्नालाल घर से मजदूरी करने निकले थे,ग्राम झुंझुनू के पासवर्ड ठेकेदार विरेंद्र महोबिया के साथ काम पर चली गई थी। पति पैदल मंडल रांची के लिए निकल गया शाम को लौटते समय झुंझुनू नगर मोड़ पर उसका पति रक्तरंजीत अवस्था में पाया गया जिसके बाद उसने फोन करके ठेकेदार वीरेंद्र को बुलाया और मोटरसाइकिल से अपने घायल पति को लेकर घर चले गए। घर लाते हुए कि रास्ते में ही मौत हो गई। 

एसीपी बहुगुणा के अनुसार मृतक के चेहरे वह गले में चोट के निशान थे।  जिसकी वजह से खून बह रहा था। हत्या का मामला दर्ज कर जांच पड़ताल में जुट गए थे। मृतक के लड़के बृजेंद्र ने अपने बयान में बताया कि पारले फैक्ट्री से माल लौड कर छिंदवाड़ा जा रहा था। भेड़ाघाट के समीप घटना की सूचना मिलने पर वह वापस लौटा। छानबीन करने पर पता चला कि घटना के दौरान बृजेंद्र ग्राम निपानिया में डीजे लोड कर रहा था और उस दौरान वह 2 घंटे तक गायब रहा। पुलिस ने आरोपी को अभिरक्षा में लेकर पूछताछ  तो उसने अपने पिता की हत्या का जुर्म कबूल कर लिया। 

पूछताछ की तो आरोपी बेटे ने बताया कि उसके पिता मानसिक रूप से कमजोर है जिसके कारण खाते  सोते समय वह गंदगी कर देते थे।  उसे गंदगी साफ करना पड़ती थी जिस कारण से उसने यह हत्या की योजना बनाई। पिता जब काम से लौट रहे थे तो  उनके चेहरे पर तथा गर्दन पर वार किया इसके बाद पैर से उसका गला दबा दिया पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

गुरुद्वारे की छत से 12वीं की छात्रा ने लगाई छलांग, सामने आया CCTV फुटेज

एक ऑटो के अंदर-बाहर बैठे 50 से भी ज्यादा लोग, हैरान कर देगा वीडियो

मध्यप्रदेश की बेटियों ने की हवाई यात्रा,राहुल गाँधी ने तीनों छात्राओं का सपना किया पूरा

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -