अगर आप भी है 12वीं पास तो इस सेक्टर में बनाएं अपना अपना करियर

मेडिकल सेक्टर में ब्लड बैंक का अहम किरदार है। ब्लड बैंक में टेक्नीशियन (Technician) के रूप में काम करने वाले प्रोफेशनल्स (Professional) को फ्लेबोटोमिस्ट (Phlebotomist) बोला जाता है। निरंतर बढ़ते रोगों के चलते अब ब्लड बैंक्स में फ्लेबोटोमिस्ट की बहुत मांग रहती है। चलिए जानते हैं कि फ्लेबोटोमिस्ट के रूप में क्या हैं करियर की संभावनाएं।।।

ये होता है काम:-
किसी भी ब्लड बैंक में फ्लेबोटोमिस्ट का किरदार बेहद अहम होता है। इनका काम पेशेंट का ब्लड सैम्पल कलेक्ट करना तथा उसकी लेबलिंग करना होता है। इसके अतिरिक्त फ्लेबोटोमिस्ट ब्लड डोनर से ब्लड कलेक्ट कर उसे स्टोर भी हैं। इन्हें इस बात का टेस्ट भी करना होता है कि कलेक्ट किया गया ब्लड किस ग्रुप का है तथा वो कितना सुरक्षित है। इसी आधार पर ब्लड की लेबलिंग की जाती है।

ऐसे करें कोर्स:-
फ्लेबोटोमिस्ट के रूप में करियर बनाने के लिए विद्यार्थियों का किसी भी स्ट्रीम में 12वीं उत्तीर्ण होना आवश्यक है। इसके पश्चात् वे ब्लड बैंक टेक्नोलॉजी में सर्टिफिकेट (Certificate) या डिप्लोमा (Diploma) कोर्स कर सकते हैं। सर्टिफिकेट कोर्स 6 माह से एक वर्ष की अवधि एवं डिप्लोमा कोर्स 1 वर्ष से 2 वर्ष की अवधि तक का होता है। कोर्स के चलते थ्योरी से अधिक प्रैक्टिकल ट्रेनिंग (Practical Training) पर ध्यान दिया जाता है। कोर्स के पश्चात् आप किसी भी अस्पताल या ब्लड बैंक में 15 से 20 हजार रुपए महीना सरलता से कमा सकते हैं।

क्या आपके करियर में भी आ रही अड़चनें? तो रखे इन विशेष बातों का ध्यान

एक बेटी के पिता है जस्सी गिल, अपनी आवाज ही नहीं अभिनय से भी जीता लोगों का दिल

गुरुग्राम में डेंगू का कहर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -