JNU में एक बार फिर 23 से 25 फरवरी के बीच होगा राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन

Feb 20 2016 06:39 AM
JNU में एक बार फिर 23 से 25 फरवरी के बीच होगा राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन

नई दिल्ली : देश में चल रहा JNU विवाद थमने का नाम ही नहीं ले रहा है खबर है की अब देश के वामदल भी इस प्रदर्शन की बेला को आगे बढाएँगे जानकारी के मुताबिक ये प्रदर्शन आरएसएस और भाजपा के खिलाफ होगा वामदलों के प्रमुखो का कहना है कि हिंदुवादी ताकतों द्वारा उन सब पर कथित ‘देशद्रोही’ का ठप्पा लगाए जाने के विरोध में ये प्रदर्शन होगा। 

माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने योजना का जिक्र करते हुए कहा की वामदलों के नेताओं और जदयू, राजद और राकांपा के सांसदों का एक प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी से मिलकर विवाद पर उनके हस्तक्षेप की मांग करेंगे वामदलों का कहना है की आरएसएस और भाजपा ने हम पर जो आरोप लगाया है ये आरोप सिर्फ हम पर ही नहीं बल्कि पूरी भारतीय जनता पर आरोप लगाया है। 

वामदलों द्वारा प्रदर्शन की तारीख भी तय कर ली गई है वे 23 और 25 फरवरी के बीच यह राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन किया जाएगा साथ ही इन दलों ने महात्मा गाँधी का हवाला देते हुए कहा की जिन लोगो ने देश के महापुरुष महात्मा गाँधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को नायक माना है ऐसे मंडल और नेताओ को हमें देशद्रोही कहने का कोई हक नहीं है देशद्रोही हम नहीं बल्कि ये लोग है हम प्रदर्शन करेंगे।अब देखना ये है की ये JNU का ये भीषण मामला कहा जाकर थमेगा।