इस वजह से कम हो रही है यहूदियों की आबादी

Oct 26 2020 03:19 PM
इस वजह से कम हो रही है यहूदियों की आबादी

यहूदियों की आबादी पर हाल के अध्ययन से पता चलता है कि यूरोपीय महाद्वीप की आबादी का केवल 0.1% यहूदी शामिल हैं। जंहा इस बता का पता चला है कि यूरोप में यहूदी आबादी पिछले 50 वर्षों में 60 प्रतिशत से अधिक घट गई है। लंदन स्थित इंस्टीट्यूट फॉर यहूदी पॉलिसी रिसर्च द्वारा हाल ही में किए गए एक अध्ययन में कहा गया है कि 19वीं सदी के उत्तरार्ध में 90% यूरोपीय आबादी यहूदी थी, जो कि लगभग 9% थी, जो कि 1000 साल पहले थी।

वहीं वर्तमान में यूरोप में 1.3 मिलियन यहूदी रहते हैं, जो महाद्वीप की आबादी का लगभग 0.1 प्रतिशत योगदान देते हैं और ब्रिटेन, जर्मनी और फ्रांस में इन लोगों का दो-तिहाई निवास करते हैं। यहूदियों के हवाले से दी गई रिपोर्ट न केवल यूरोपीय इतिहास और संस्कृति का अभिन्न अंग रही है बल्कि वास्तव में इसके सबसे पुराने और मूल घटक समूहों में से एक है। आबादी में मुख्य कमी एडोल्फ हिटलर के कारण थी, 20 वीं शताब्दी के पहले छमाही में उन्होंने 6 मिलियन यहूदियों को मार डाला जिससे आबादी लगभग 11 मिलियन कम हो गई।

1.8 मिलियन से अधिक यहूदियों ने 1969 से 2020 के बीच पूर्वी यूरोप को छोड़ रूस में बस गए, और ऐसा इसलिए क्यूंकि वहाँ के लोगों ने यहूदियों के रूस में रहने के लिए शरण दी। इसके परिणामस्वरूप यहूदी आबादी के गुरुत्वाकर्षण के केंद्र में महाद्वीप के पूर्व से पश्चिम तक भारी बदलाव आया। "1880 में, दुनिया के 88% यहूदी यूरोप में निवास करते थे और 1945 तक यह घटकर 35% और फिर 26 हो गया। 1970 में% और 1970 में 9%, अध्ययन रिपोर्ट में सामने आया है।

ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा #BoycottFrance, इस्लामी देशों ने इमैनुएल मैक्रों के खिलाफ शुरू की मुहीम

चीन से कोरोना वैक्सीन नहीं खरीदेगा ब्राज़ील, राष्ट्रपति बोल्सोनारो ने ख़ारिज किया प्रस्ताव

जापान ने देश में शून्य उत्सर्जन प्राप्त करने की समय सीमा के रूप में 2050 का किया एलान