जम्मू-कश्मीर : चप्पे-चप्पे पर जवान तैनात, आपातकालीन सेवाओं पर खासा जोर दे रहा प्रशासन

Aug 07 2019 12:52 PM
जम्मू-कश्मीर : चप्पे-चप्पे पर जवान तैनात, आपातकालीन सेवाओं पर खासा जोर दे रहा प्रशासन

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35A के हटने के तीसरे दिन यहां सुरक्षा व्यवस्था कड़ी नजर आई है. प्रशासन द्वारा लोगों से कहा गया कि वे भी इसमें सहयोग करें. कई जगहों पर हालात तनावपूर्वक हुए है, हालांकि उनको डील कर लिया गया. प्रशासन की ओर से आपातकालीन सेवाओं पर फ़िलहाल खासा ध्यान दिया जा रहा है. 

 

कश्मीर मुद्दे पर अधिकारियों का कहना है कि सुरक्षा की समीक्षा हर दिन की जा रही है. प्रशासन के मुताबिक़, यह सुरक्षा की मांग है. श्रीनगर में शाम को सुरक्षा में छूट दी जाती है, जो कि सुबह 5 बजे तक जारी रहती है. हालांकि उत्तर और दक्षिण कश्मीर में सुरक्षा काफी कड़ी रहती है. साथ ही बता दें कि दूसरी ओर राष्ट्रपति राम नाम कोविंद ने जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को निरस्त करने की मंजूरी प्रदान कर दी है. 

इससे पहले, संसद द्वारा मंगलवार को जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा संबंधी अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को समाप्त करने के प्रस्ताव संबंधी संकल्प और जम्मू कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू कश्मीर और लद्दाख में विभाजित करने वाले विधेयक की मंजूरी मिली थी. जानकारी की माने तो देश के गृह मंत्री अमित शाह द्वारा जम्मू कश्मीर आरक्षण दूसरा संशोधन विधेयक 2019 को वापस लेने की अनुमति मांगी गई. 

लद्दाख के इस युवा सांसद ने सदन में दिए भाषण से बटोरी सुर्खीयां, पीएम मोदी भी हुए प्रभावित

आर्टिकल 370 हटने के बाद जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के बच्चों को मिलेगा यह तोहफा

अनुच्छेद 370 अब पहुंचा सुप्रीम कोर्ट

उम्रभर पति का नाम 'सरनेम' बनाकर रौशन करती रही सुषमा, जानिए कैसे हुई पहली मुलाकात ?