आपस में ही भिड़े TMC के नेता, आगजनी और बमबारी तक पहुंची बात

आपस में ही भिड़े TMC के नेता, आगजनी और बमबारी तक पहुंची बात

कोलकाता।  पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस (TMC) के के दो नेताओं के गुट ही आपस में भिड़ गए। इन नेताओं के बीच शुरू हुई बहस  हिंसक रूप लेकर मारपीट से होते आगजनी और बमबारी तक पहुँच गयी। 

जन्मदिन विशेष: इस तरह श्रीराम से मिले थे गोस्वामी तुलसीदास

दरअसल यह मामला पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले के नानूर का है जहा तृणमूल कांग्रेस पार्टी (TMC) ने नेताओं के दो गुट में शुक्रवार को हुए विजय जुलूस को लेकर बहस हो गयी थी। यह बहस देखते ही देखते  मारपीट में तब्दील हो गयी। इसके बाद एक समूह के नेताओं ने दूसरे समूह के मुखियाँ के इलाके के घरों में आग लगा दी। यह नेता इतने में ही नहीं माने और इलाके में छोटे बम फेकने के साथ ही तोड़फोड़ भी करने लगे। 

मुश्किल दूर कर जीवन में ख़ुशी लाते हैं रामचरितमानस के ये दोहे

इस घटना के बाद से इलाके में अभी दहशत का माहौल बना हुआ है। इसके साथ ही इलाके में भारी पुलिस बल तैनात किया जा चुका है। सूत्रों के मुताबिक बताया जा रहा है कि ये विवाद एक समय के कट्टर तृणमूल नेता रहे शेख शाहनवाज़ के भाई काजोल शेख और भूतपूर्व विधायक गदाधर हाजरा के बीच हुआ है। पुलिस के मुताबिक, हिंगूर शेख ने जमाल शेख पर आरोप लगाया है कि जमाल के लोगों ने के उसके घर पर हमला बोल दिया था। उन्होंने यह भी बताया कि जमाल ने उसके साथ मारपीट भी की थी  जिसमे उनका सिर फूट गया। 

ख़बरें और भी

बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या पर SC सख्त, ममता सरकार से जवाब माँगा

पश्चिम बंगाल में टीएमसी ऑफिस में बम विस्फोट, 2 की मौत, 4 घायल

दुनिया की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली एक्ट्रेस बनी स्कारलेट

 

?