इंडियन नेवी में होगी 'रोमियो' की एंट्री, भारत की समुद्री सीमा पर देगा पहरा

नई दिल्ली: इंडियन नेवी को हिंद महासागर (Indian Ocean) और अरब सागर (Arabian Sea) में चीनी नेवी के बढ़ते हस्तक्षेप से  निपटने के लिए अचूक हथियार मिलने की तैयारी आरम्भ हो चुकी है. US से खरीदा जाने वाला एमएच 60 आर (MH 60R) यानि रोमियो हेलीकॉप्टर (Romeo Helicopter) किसी भी सबमरीन या जंगी जहाज का मुकाबला करने में लाजवाब है.

बता दें कि, सबमरीन बेड़ा इंडियन नेवी की सबसे कमजोर कड़ी है और हिंद महासागर में चीनी सबमरीन की तैनाती भारत की चिंता बढ़ा रही है. तक़रीबन 20000 करोड़ रुपए की कीमत से 24 रोमियो हेलीकॉप्टर खरीदने का निर्णय फरवरी में राष्ट्रपति ट्रंप की भारत यात्रा के दौरान किया गया था. 15 फरवरी को करीब 7000 करोड़ रुपए के सौदे पर हस्ताक्षर किए गए थे. बाकी कीमत हेलीकॉप्टर में लगने वाले हथियारों और उपकरणों की रहेगी.

लॉकहीड मार्टिन के साथ हुई डील के साथ ही अमेरिकी नेवी के लिए बनाए गए तीन रोमियो हेलीकॉप्टर को भारत को देने की भी सहमति मिल गई है. इन तीनों को इंडियन नेवी के पायलटों की ट्रेनिंग के लिए उपयोग किया जाएगा. रोमियो हेलीकॉप्टर्स अगले साल तक इंडियन नेवी को मिलने शुरू हो जाएंगे. आपको बता दें कि इंडियन नेवी के पास अभी न्यूक्लियर सबमरीन समेत कुल 16 सबमरीन हैं. 

गंगोत्री नेशनल पार्क में बढ़ा दुर्लभ वन्य जीवों का कुनबा

20 लाख करोड़ का राहत पैकेज घोषित करने से पहले सरकार ने किया था यह काम

वित्त मंत्री ने भारतीय कंपनियों के लिए नियम में किया बड़ा बदलाव

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -