गंगोत्री नेशनल पार्क में बढ़ा दुर्लभ वन्य जीवों का कुनबा

कोरोना को लेकर लॉकडाउन के चलते गंगोत्री नेशनल पार्क में मानवीय गतिविधियां शून्य होने के कारण वन्य जीवों का कुनबा समृद्ध हो रहा है। इस बार वन विभाग के ट्रैप कैमरा में हिम तेंदुआ व भूरा भालू आदि दुर्लभ वन्य जीवों की तस्वीरें कैद हुईं हैं।हिम तेंदुआ, भूरा भालू, रेड फॉक्स व कस्तूरा मृग आदि दुर्लभ वन्य जीव जंतुओं की मौजूदगी वाले गंगोत्री नेशनल पार्क के लिए लंबा लॉकडाउन वरदान साबित हुआ है। बीते साल नवंबर से पार्क क्षेत्र में मानवीय आवाजाही बंद है। इससे पार्क क्षेत्र में वन्य जीव स्वच्छंद होकर विचरण कर रहे हैं। पार्क प्रशासन द्वारा दुर्लभ वन्य जीवों की निगरानी एवं अनुसंधान के उद्देश्य से यहां ट्रैप कैमरा लगाए हैं।पार्क के उपनिदेशक नंदावल्लभ शर्मा ने बताया कि पार्क क्षेत्र में 50 कैमरा ट्रैप लगाए गए हैं।

 इनमें से अधिकांश में हिम तेंदुआ की तस्वीरें आई हैं। यह पार्क क्षेत्र में हिम तेंदुओं की संख्या में इजाफे की ओर संकेत करता है। बीते सालों में एक अप्रैल को गंगोत्री नेशनल पार्क पर्यटकों की आवाजाही के लिए खुल जाता था, लेकिन इस बार लॉकडाउन के चलते अभी तक यहां पर्यटकों की आवाजाही प्रतिबंधित है।वन विभाग की टीम ने बीते तीन अप्रैल और 25 अप्रैल के बाद अब 12 से 16 मई तक पार्क क्षेत्र की रेकी की।  पार्क के वन क्षेत्राधिकारी प्रताप सिंह पंवार ने बताया कि इस बार पार्क क्षेत्र में वन्य जीवों का कुनबा समृद्ध हुआ है।

 रेकी के दौरान टीम को बड़ी संख्या में भरल मृगों के झुंड के साथ ही भूरा भालू भी गोमुख ट्रैक पर नजर आया।उन्होंने बताया कि इस बार सर्दियों में भारी बर्फबारी के चलते गंगोत्री-गोमुख ट्रैक कुछ स्थानों पर क्षतिग्रस्त हुआ है। भोजवासा से पहले कच्ची ढांग में ट्रैक बेहद जोखिम भरा है। इसे दुरुस्त कराया जा रहा है। टीम ने नेलांग वैली में नीलापानी तक, गंगोत्री से गोमुख तथा केदारताल ट्रैक की रेकी की। टीम में उपनिदेशक एवं रेंजर के साथ ही हरीश, राजवीर रावत, सोहन लाल अवस्थी व देवराज राणा आदि शामिल रहे।

जम्मू कश्मीर: डोडा एनकाउंटर में हिज्बुल के दो आतंकी ढेर, एक जवान शहीद

जम्मू कश्मीर के डोडा जिले में घिरे आतंकी, सुरक्षाबलों के साथ एनकाउंटर जारी

Tata : कंपनी अपनी कारों पर दे रही सुनहरा मौका, जल्द उठाए डिस्काउंट का फायदा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -