भारतीय मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में आ रही कमी

भारतीय मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में आ रही कमी

जहाँ एक तरफ भारत नई बुलंदियों को छू रहा है और लगातार आगे बढ़ता जा रहा है, वहीं दूसरी तरफ मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर को लेकर यह खबर सामने आ रही है कि सेक्टर की उत्पादन वृद्धि में सितम्बर माह के दौरान कमी देखने को मिली है. बताया जा रहा है कि सितम्बर माह के दौरान यह 7 माह के निचले स्तर पर आ गयी है. हाल ही में निक्केई ने एक रिपोर्ट जारी की है जिसमे यह बात सामने आई है कि ऐसे मुश्किलों के बीच नए ऑर्डर्स में भी कमी देखी गई है. मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर से जुडी इस रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि निक्केई इंडिया मैन्युफैक्चरिंग पीएमआई को सितम्बर माह के दौरान 51.2 पर देखा गया है. जोकि अगस्त माह के दौरान 52.3 पर देखने को मिला था.

यह भी बता दे कि जब भी यह इंडेक्स 50 से ऊपर रहता है तो यह अच्छा संकेत माना जाता है लेकिन जैसे ही यह 50 से निचे आ जाता है तो यह गिरावट को प्रदर्शित करता है. निक्केई की इस रिपोर्ट में यह बात भी सामने आई है कि नए कामो में लगातार बढ़ोतरी हो रही है लेकिन इसके बावजूद भी भारतीय मैन्युफैक्चरिंग प्रोडक्शन कम हो रहा है. यह एक अच्छा संकेत नहीं है.