5 दिन में इन्होने बना डाला माचिस की 1360 तीलियों से अनोखा एयरक्राफ्ट

आज भारतीय वायुसेना की 89वीं की वर्षगांठ है। आप सभी को बता दें कि हर साल की तरह इस बार भी गाजियाबाद स्थित हिंडन एयरबेस पर यह दिवस धूमधाम मनाया जा रहा है। जी दरअसल भारत में हर साल 8 अक्टूबर को भारतीय वायु सेना दिवस मनाया जाता है वह भी बहुत धूम-धाम से। आपको पता ही होगा कि भारतीय वायु सेना (IAF) का गठन 8 अक्टूबर, 1932 को भारतीय वायु सेना अधिनियम के तहत किया गया था। वहीं उस दौरान इंडियन एयरफोर्स को यूनाइटेड किंगडम की रॉयल एयर फोर्स के सहायक बल के रूप में खड़ा किया गया है, लेकिन अब भारतीय वायु सेना विश्व की सबसे दुर्जेय वायु सेना में से एक है।

अब आज भारतीय वायु सेना दिवस के खास मौके पर ओडिशा के रहने वाले सास्वत रंजन साहू ने कमाल कर डाला है। जी दरअसल उन्होंने 1360 माचिस की तीलियों का इस्तेमाल कर 'वेस्टलैंड वापिती' विमान की प्रतिकृति बनाई है। इस बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा, "वेस्टलैंड वापिती के 33 इंच लंबे और 40 इंच चौड़े मॉडल को बनाने में मुझे 5 दिन लगे।" आप सभी जानते ही होंगे कि देश की सुरक्षा के लिए वायु सेना का अहम योगदान होता है।

वहीं बहुत कम लोग यह जानते होंगे कि आजादी से पहले वायुसेना को रॉयल इंडियन एयरफोर्स कहा जाता था। केवल यही नहीं बल्कि भारतीय वायु सेना, संयुक्त राज्य अमेरिका, रूस और चीन के बाद दुनिया की चौथी सबसे बड़ी वायु सेना है और सालों से विभिन्न युद्धकालीन और शांतिकालीन अभियानों में इंडियन एयरफोर्स ने अपनी क्षमता और शक्ति साबित की है।

पार्क घूमने गई महिला बनी करोड़पति

बहू ने सांप से करवाया सास का मर्डर, सुप्रीम कोर्ट पहुंचा मामला

तेलंगाना में आज से घोषित हुई दशहरे की छुट्टियां

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -