पई की चेतावनी 'डिजिटल उपनिवेश' बन जाएगा देश

चीन और अमेरिका द्वारा बड़े पैमाने पर भारत में डिजिटल अर्थव्यवस्था में किये जा रहे पूंजी निवेश को लेकर शीर्ष भारतीय निवेशक तथा शिक्षाविद मोहनदास पई ने चेतावनी दी है कि जब तक भारतीय कंपनियां इसमें निवेश नहीं करेंगी तो ऐसी स्थिति में देश 'डिजिटल उपनिवेश' बन जाएगा.

गौरतलब है कि भारत की डिजिटल अर्थव्यवस्था में बड़े पैमाने पर अमेरिका तथा चीन द्वारा किये जा रहे निवेश के संभावित परिणाम की चिंताओं से सावधान करते हुए शीर्ष भारतीय निवेशक और मणिपाल ग्लोबल एजुकेशन के चेयरमैन पई ने कहा कि अमेरिका तथा चीन के बीच डिजिटल रूप से दबदबे को लेकर लड़ाई है और जहां भारतीय पूंजी है, वे कैलिफोर्निया में जमीन-जायदाद खरीद रहे हैं. ऐसी दशा में भारत डिजिटल उपनिवेश बन सकता है.

पई ने चेताते हुए कहा कि अगर आप डिजिटल क्रांति से चूक जाते हैं, तो हमारी बड़ी कंपनियां चीनी पूंजी द्वारा नियंत्रित होगी जो काफी खतरनाक है. विश्व के तीसरे सबसे बड़े 'स्टार्टअप इको सिस्टम' वाले देश भारत ने 8 से 10 अरब डॉलर की पूंजी प्राप्त की है, लेकिन जिसमें से भारतीय पूंजी मात्र 50 करोड़ डॉलर है, जबकि भारतीय पूंजी बिना कुछ नया पैदा किए ही अपना हिस्सा चाहती है. आपने भारतीय पूंजीपतियों से धन के निवेश के संदर्भ में इस रुख में बदलाव लाने की नसीहत दी.

आज डिजिटल मार्केटिंग का है दौर, आप भी..

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -