एशियाई फुटबॉल कप में टूर्नामेंट के लिए बिना समय गवाएं सबसे पहले पहुंची ये टीम

इंडियन फुटबॉल टीम कोच्चि से निर्धारित उड़ान में विलंब होने की वजह से AFC महिला एशियाई कप के लिए गुरुवार को यहां अपने निर्धारित वक़्त से विलंब से पहुंची। वहीं कोविड महामारी की तीसरी लहर को लेकर आशंकाओं के मध्य चीनी ताइपे AFC महिला एशियाई कप फुटबॉल के लिए यहां पहुंचने वाली पहली टीम बन चुकी है। इंडियन टीम ब्राजील दौरे के उपरांत से कोच्चि में अभ्यास शिविर में रही। उसकी उड़ान में विलंब होने से शाम का मीडिया सत्र स्थगित किया जा चुका है।

टूर्नामेंट शुरू होने की प्रतीक्षा कर रहे इंडिया के मुख्य कोच थॉमस डेनेरबी ने बोला है, ‘यह वह क्षण है जिसकी हम पिछले छह माह से तैयारी में लगे हुए है। हमने इसके लिए 200 से ज्यादा  सत्र कर लिए है, चार देशों में कड़े प्रतिद्वद्वियों के विरुद्ध  कई मैच खेले हैं, और अब उन सभी चीजों को लागू करने का वक़्त आ गया है जिन पर हम काम कर रहे हैं।’  इंडिया को ग्रुप A में ईरान (20 जनवरी), चीनी ताइपे (23 जनवरी) और चीन (26 जनवरी) से खेलने वाले है। पुणे में खेल रही सभी टीमें मुंबई पहुंचने वाली है और फिर सड़क मार्ग से पुणे आने वाली है। सभी टीमें कड़े बायो बबल में रहेंगी और टूर्नामेंट से जुड़े सभी अधिकारियों और खिलाड़ियों की नियमित कोरोना टेस्ट करने वाली है। 

सूत्र ने बोला है, ‘होटल में कार्यरत स्टाफ भी बायो बबल में रहने वाला है और बबल के बाहर किसी से शारीरिक संपर्क नहीं होने वाला है। टीमों के साथ जुड़े ड्राइवरों के लिए भी यही स्थिति रहेगी। उन्हें भी बबल के भीतर ही रहना पड़ेगा।’ मिली जानकारी के अनुसार इंडिया 1980 के उपरांत  पहली बार टूर्नामेंट की मेजबानी कर रहा हे और इसके जरिये उसकी निगाहें 2023 FIFA  वर्ल्ड कप में स्थान बनाने पर है। टूर्नामेंट के मेजबानों में पुणे के बाहर स्थित बालेवाड़ी खेल परिसर भी है जहां 2008 राष्ट्रमंडल युवा खेल समेत कई बड़े टूर्नामेंटों का आयोजन हो चुका है ।

यहीं से शुरू हुआ बुमराह का करियर, शेयर किया इमोशनल पोस्ट

आज प्रो कबड्डी में होगा इन दो टीमों के बीच घमासान, जानिए कब और कहा होगी लाइव स्ट्रीमिंग

ऑस्ट्रेलियाई ओपन के पहले दौर में हारे सानिया और बोपन्ना, गेम से हुए बाहर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -