कभी भी सफलता का श्रेय मुझे नहीं मिला : इमरान खान

कभी भी सफलता का श्रेय मुझे नहीं मिला : इमरान खान

आमिर खान के भांजे इमरान खान अपनी असफलताओ को लेकर थोड़ा दुखी है और मानते है की उनको बॉलीवुड में सही सम्मान नहीं मिल पाया है. इमरान खान का कहना है की जब कभी उन्होंने अपने कॅरियर में सफल फिल्मे की उन्हें उसका श्रेय नहीं मिल पाया और जब भी कोई फिल्म असफल हुई तो उसका कारण इमरान को बताया गया जबकि यदि कोई फिल्म सफल होती है तो इसका श्रेय फिल्म के निर्देशक को दे दिया जाता है.

किसी भी कलाकार के कॅरियर में कई हिट और फ्लॉप फिल्में होती हैं जो की आम बात है लेकिन इमरान खान का सोचना है की दर्शक उनकी असफलताओं पर ज्यादा ही ध्यान देते है जबकि उनकी सफलताओं पर कोई ध्यान नहीं देते. इमरान ने वर्ष 2007 में आई फिल्म ‘जाने तू..या जाने ना’ से फिल्मी दुनिया में अपना कदम रखा था और उसके बाद उनकी कई फिल्मे रिलीज़ हुई. जिनमे से कुछ फिल्मे जैसे  ‘आई हेट लव स्टोरीज’, ‘देल्ही बेली’ और ‘मेरे ब्रदर की दुल्हन’ को सफल रही जबकि ‘लक’, ‘किडनैप’, ‘एक मैं और एक तू’, ‘ब्रेक के बाद’ और ‘मटरू की बिजली का मंडोला’ कोई खास कमल नहीं दिखा पाई.

इस पर इमरान ने कहा, ‘‘मुझे कभी यह नहीं लगा कि मुझे जो मिलना चाहिए था वह मिला. मुझे अक्सर यह लगता है कि मेरे करियर में मैंने अच्छी फिल्में की हैं लेकिन उसका श्रेय किसी तरह निर्देशकों को चला गया और लोगों ने कहा कि यह निर्देशक का कमाल था कि उन्होंने मुझसे अच्छा अभिनय करवाया.’’

इमरान बोले, ‘‘ लेकिन जब कोई फिल्म फ्लॉप हुई तो सारी जिम्मेदारी मेरे कंधों पर डाल दी गई. मेरी जितनी भी फिल्में असफल रहीं वो मैंने बड़े निर्देशकों के साथ की थी तो मुझे लगा ‘वे स्थापित निर्देशक हैं और सारा दोष मेरे मत्थे आ गया.’ इमरान खान की फिल्म 'कट्टी बट्टी' सिनेमाघरों में प्रदर्शित की जा चुकी है और फिल्म को दर्शको का प्यार भी मिल रहा है . निखिल आडवाणी द्वारा निर्देशित इस फिल्म में इमरान के साथ कंगना रनोट मुख्य भूमिका में है.