मक्खन, घी पर आयात शुल्क में बढ़ोतरी

मक्खन, घी पर आयात शुल्क में बढ़ोतरी

नई दिल्ली : मक्खन, घी और बटर आयल को लेकर भारत सरकार ने हाल ही में एक नया फैसला लिया है. बताया जा रहा है कि सरकर के द्वारा इनके आयात शुल्क को 10 फीसदी बढ़ा दिया गया है और इसके साथ ही यह 40 फीसदी हो गया है. साथ ही मामले में सरकार ने यह कहा है कि जींस बाजार में आ रही गिरावट से घरेलु उत्पादकों को बचाये जाने के लिए सरकार आगे भी ऐसे कदम उठाने के बारे में विचार कर रही है. साथ ही आपको यह भी बता दे कि सूत्रों से यह बात सामने आई है कि मक्खन, घी और बटर ऑयल पर आयात शुल्क को अगले 6 महीनों तक के लिए 40 फीसदी करने का निर्णय लिया गया है जोकि फ़िलहाल 30 फीसदी ही है. इसके मार्च 2016 तक ऐसे ही जारी रहने की बाटे भी सामने आ रही है.

गौरतलब है कि अंतर्राष्ट्रीय मार्केट में मक्खन, घी और बटर ऑयल के दामों में गिरावट देखने को मिली थी जिसके कारण दुग्ध उत्पादकों ने भी अपील के जरिये सुरक्षा की मांग की थी. सूत्रों ने बताया है कि घरेलु उत्पादकों के हितों को लेकर यह फैसला किया गया है क्योकि सी समय इनकी रक्षा की बहुत अधिक जरुरत है. साथ ही जानकारी में यह बात भी सामने आई है कि वैश्विक नरमी को देखते हुए घरेलू उद्योग के साथ ही घरेलू कृषि क्षेत्र को भी सुरक्षा की बेहद जरुरत है क्योकि कुछ जिंसों के आयात में काफी बढ़ोतरी देखने को मिली है.