स्वामी के नाम पर नहीं किया HRD मिनिस्ट्री ने विचार

नई दिल्ली : भाजपा नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी को जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय का कुलपति बनाने की दौड़ में शामिल किए जाने की बात का आज केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा खंडन कर दिया गया है। मंत्रालय द्वारा इस मामले में कहा गया कि सोश्यल मीडिया में जिस तरह की बातें फैली वह एक आम राय है। स्वामी के ट्वीट ने इस मामले को और भी गर्म कर दिया। मंत्रालय के सूत्रों से इस तरह की जानकारी सामने आई है कि इस मामले में स्वामी के नाम पर जेएनयू के कुलपति पद के लिए किसी के नाम का विचार नहीं किया गया।

स्वामी के नाम पर किसी तरह नहीं सोचा गया है। यही नहीं स्वामी को लेकर कहा कि वे किसी भी विवि के कुलपति नहीं बन सकते। उनकी आयु 75 वर्ष से अधिक है। नियमों के अंतर्गत 70 वर्ष में केंद्रीय विवि के अधिकारी कर्मचारी सेवानिवृत्त हो जाते हैं। विवि का कार्यकाल 5 वर्ष या फिर उसका रिटायरमेंट जो भी कम हो वह माना जाता है। ऐसे में स्वामी विवि के कुलपति नहीं बन सकते हैं। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -