लॉन्च के बाद कैसे आगे बढ़ेगा आदित्य-L1? यहाँ जानिए

लॉन्च के बाद कैसे आगे बढ़ेगा आदित्य-L1? यहाँ जानिए
Share:

नई दिल्ली: चांद के पश्चात् भारत अब सूरज की तरफ देख रहा है। चंद्रयान-3 फिलहाल चंद्रमा के राज जानने में व्यस्त है। शनिवार को सूर्य के सीक्रेट्स पता करने आदित्य-L1 को भेजा जाएगा। श्रीहरिकोटा के लॉन्चिंग सेंटर से आदित्य-L1 मिशन को पेश किया जाएगा। ISRO ने लॉन्च की सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं। इसरो के अध्यक्ष एस. सोमनाथ ने कहा कि इसरो सौर मिशन ‘आदित्य-एल1’ के लॉन्च के लिए तैयार है। रॉकेट और सैटेलाइट रेडी हैं। हमने लॉन्च के लिए अभ्यास भी पूरा कर लिया है। काउंटडाउन भी शुक्रवार प्रातः 11.50 बजे आरम्भ कर दिया गया है। यह भारत का पहला सूर्य मिशन है। आइये आपको बताते है इससे जुड़ी जरुरी बातें...

क्‍या है L1?
आदित्य एल1 अंतरिक्ष यान को सूर्य तथा पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण प्रणाली के लार्ज्रेंज पॉइंट 1 (L1) के चारों ओर एक हेलो कक्षा में रखा जाएगा। यह जगह धरती से लगभग 15 लाख किलोमीटर दूर है। फिजिक्स में, लार्ज्रेंज पॉइंट्स ऐसे पॉइंट्स होते हैं जहां, दो-पिंडो वाली गुरुत्वाकर्षण प्रणाली में, एक छोटी वस्तु को जब वहां रखा जाता है तो वह स्थिर रहती है। सूर्य तथा पृथ्वी जैसे दो-पिंड सिस्‍टम के लिए, लार्ज्रेंज बिंदु ऐसे ऑप्टिम पॉइंट्स बन जाते हैं जहां स्पेसक्राफ्ट कम ईंधन की खपत के साथ बने रह सकते हैं। सोलर-अर्थ सिस्‍टम में पांच लार्ज्रेंज पॉइंट्स हैं। लार्ज्रेंज बिंदु L1 वह है जहां आदित्य एल1 जा रहा है।​

लॉन्च के बाद कैसे आगे बढ़ेगा आदित्य-L1:-
* आदित्य-एल1 स्पेसक्राफ्ट को श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र SHAR से प्रक्षेपित किया जाएगा।
* पहले इसे पृथ्वी की निम्न कक्षा में रखा जाएगा। फिर, कक्षा को अधिक दीर्घवृत्ताकार बनाया जाएगा।
* आखिर में स्पेसक्राफ्ट को पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण क्षेत्र से बाहर, लार्ज्रेंज बिंदु 1 की तरफ धकेल दिया जाएगा।
* पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण क्षेत्र से बाहर निकलने के पश्चात्, आदित्य-एल1 का क्रूज स्‍टेज शुरू होगा, जिसके बाद यह लार्ज्रेंज बिंदु 1 (L1) के चारों ओर एक हेलो कक्षा में प्रवेश करेगा।
* इसरो के मुताबिक, पृथ्वी से लार्ज्रेंज बिंदु 1 तक का सफर पूरा करने में तकरीबन 4 महीने लगेंगे।​

INDIA गठबंधन की बैठक में किया गया 13 सदस्यों की कोऑर्डिनेशन कमेटी का गठन, इन नेताओं को मिली जगह

'हिन्दुस्तान हिंदू राष्ट्र है, यह सत्य है और RSS यह करेगा': मोहन भागवत

लद्दाख के कारगिल में बनाई जा रही रोड, नितिन गडकरी ने शेयर कीं झलक

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -