तकनीकी कारणों से टली हेडली की गवाही, कल होगी पेशी

Feb 10 2016 10:39 AM
तकनीकी कारणों से टली हेडली की गवाही, कल होगी पेशी

मुंबई : 26/11 को मुंबई में हुए हमले के लिए सीढ़ी तैयार करने वाला डेविड कोलेमैन हेडली की गवाही का आज तीसरा दिन था। हाँलाकि तकनीकी कारणों की वजह से आज गवाही टल गई, मामले में अगली सुनवाई गुरुवार को होगी। इस बारे में सरकारी वकील उज्जवल निकम ने बताया कि अमेरिका की तरफ से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में खराबी थी, जिसे ठीक करने की बार-बार कोशिश की गई लेकिन यह संभव नहीं हो सका। गुरुवार को करीब छह घंटे तक सुनवाई चलने की उम्मीद है।

इससे पहले हेडली ने पाकिस्तान और पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के संबंध में काफी खुलासे किए है। हेडली ने न्यायधीश जी ए सनप को बताया कि आईएसआई ही पाकिस्तान में विभिन्न आतंकी संगठनों को फंड मुहैया कराता है। इतना ही नहीं वित्त के साथ-साथ वो सैन्य और नैतिक सहयोग भी करता है। हेडली ने बताया कि 26/11/2008 को हुए हमले की साजिश एक साल पहले से ही शुरु हो गई थी।

शुरु में लश्कर की योजना ताज होटल में होने वाली भारतीय रक्षा वैज्ञानिकों के सम्मेलन को निशाना बनाना था। बाद में इसे टाल दिया गया क्यों कि हथियारों की सप्लाई में दिक्कत आ रही थी। साथ ही सम्मेलन के संबंध में पूरी जानकारी भी नहीं मिल पा रही थी। हेडली ने यह भी बताया था कि सिद्धिविनायक मंदिर को भी निशाना बनाया गया था।

इसके लिए उसका प्रतिरुप तैयार किया गगया था। हेडली ने गवाही के दौरान यह भी कबूला कि वो आईएसआई के लिए काम करता था और पाकिस्तानी सेना के कई अधिकारियों से भी इस सिलसिले में मिला था।