तीज व्रत के दौरान की यह गलतियां तो अगले जन्म होगा अजगर के रूप में जन्म

Aug 31 2019 03:40 PM
तीज व्रत के दौरान की यह गलतियां तो अगले जन्म होगा अजगर के रूप में जन्म

हर साल हरतालिका तीज का त्यौहार बहुत धूम धाम से मनाया जाता है. ऐसे में इस साल 2019 में हरतालिका तीज का व्रत 1 सितंबर रविवार के दिन ही रखा जाएगा और तृतीया तिथि 1 सितंबर रविवार प्रातःकाल 8 बजकर 27 मिनट पर आरंभ होगी. ऐसे में 2 सितंबर सोमवार प्रातःकाल 4 बजकर 57 मिनट पर तृतीया तिथि समाप्त होगी. आइए जानते हैं पूजा के शुभ मुहूर्त.

हरतालिका व्रत प्रातःकाल की पूजा का शुभ मुहूर्त - 8 बजकर 27 मिनट से 8 बजकर 34 मिनट तक
हरतालिका व्रत प्रदोषकाल पूजा का शुभ समय- 6 बजकर 39 मिनट से 8 बजकर 56 मिनट तक

इस तरह प्रदोषकाल पूजा की कुल अवधि 2 घंटे 17 मिनट की होने वाली है. आइए अब जानते हैं इस दिन कौन से काम नहीं करने चाहिए.

1. कहते हैं इस दिन व्रत रखने वाली महिलाएं और युवतियों को पूरी रात जागना होता है और पूजा करनी होती है. वहीं अगर कोई महिला व्रत के दौरान सो जाती है तो वह अगले जन्म में अजगर के रूप में जन्म लेती है.

2. कहते हैं हरिताल‌िका निर्जला व्रत होता है और इस दिन व्रत के दौरान कोई महिलाएं या युवतियां फल खा लेती है तो उसे अगले जन्म में वानरी बनती हैं.

3. कहा जाता है महिलाएं यदि व्रत के चलते मीठा सेवन कर लेती है तो वह अगले जन्म में मक्खी बन जाती है.

4. कहते हैं इस व्रत के दौरान 24 घंटे जल की एक भी बूंद नहीं पी जाती है लेकिन अगर कोई युवतियां या सुहागिन महिलाएं जल पी ले तो वह अगले जन्म में मछली बनती है.

5. कहा जाता है जो महिलाएं इस दिन गलती से भी मांस का सेवन कर लेती हैं तो अगले जन्म में वह शेरनी बन जाती है.

6. कहते हैं  सुहागिन महिलाएं या युवतियां इस व्रत के दौरान अगर दूध पी ले तो अगले जन्म में वह नागिन बनती है.

जानिए सिंतबर महीने में पड़ने वाले हैं कौन -कौन से त्यौहार

पति-पत्नी में प्रेम बढ़ाने के लिए हरतालिका तीज के दिन जरूर करें यह उपाय

शिव भगवान ने पार्वती माता को सुनाई थी हरतालिका तीज की यह कथा

हरतालिका तीज पर भोले को अर्पित करें 16 तरह की पत्तियाँ, मिलते हैं 16 आशीर्वाद