मैं नही बनना चाहता देव मुझे तो हार्दिक ही रहने दो, क्योंकि मैं...

Aug 20 2018 12:38 PM
मैं नही बनना चाहता देव मुझे तो हार्दिक ही रहने दो, क्योंकि मैं...

नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट टीम के उभरते हुए सितारे हार्दिक पांड्या के दमदार प्रदर्शन के चलते भारत ने नॉटिंघम के ट्रेंटब्रिज स्टेडियम में खेले जा रहे तीसरे टेस्ट मैच में शिकंजा कस लिया है. इंग्लैंड की पारी को मात्र 161 रनों पर ढेर करने में हार्दिक पांड्या का सबसे बड़ा योगदान रहा. उन्होंने इंग्लैंड के कुल 5 विकेट झटके हैं. इसी के साथ एक बार फिर हार्दिक पांड्या की तुलना भारत के महान क्रिकेटर कपिल देव से होने लगी है. 

बता दें कि हार्दिक द्वारा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखें जाने के बाद से ही उनकी अब तक कई बार कपिल देव के साथ तुलना होती रही है. कपिल देव गेंदबाजी और बल्लेबाजी दोनों में अपना बेस्ट देते थे, वहीं अब यह काम भारत के लिए पांड्या भी करते हुए दिखाई दे रहे हैं. हालांकि इस बार कपिल से तुलना होने पर हार्दिक ने कहा है कि उनकी तुलना महान कपिल देव से ना की जाए.

पांड्या का कहना है कि मुझे कपिल देव नहीं बनना है मुझे हार्दिक पांड्या ही रहने दिया जाए. पांड्या की चाहत है कि दुनिया उन्हें उनके नाम से ही जाने और वह कपिल नहीं बनना चाहते. उन्होंने कहा है कि मैं अपनी पहचान के साथ खुश हूँ. मैंने अभी तक अपने करियर में 40 वनडे, 10 टेस्ट मैच खेले हैं और मैं अब भी हार्दिक ही हूं, कपिल नहीं हूं. 

खबरें और भी...

VIDEO : भारतीय पारी सिमटते ही जोर-जोर से ठहाके मारने के पीछे क्या है कोहली का राज ?

भारत ने तीसरे मैच में अपना शिकंजा कसा, इंग्लैंड पर 292 रनों की बढ़त

भाजपा से चुनाव लड़ सकते हैं गंभीर, दिल्ली से उतरेंगे मैदान में

?