सियासी गलियारों में मची हलचल, दिल्ली पहुंचे हरक, BJP का एक और विधायक दे सकता है इस्तीफा

देहरादून: उत्तराखंड की राजनीती में उठापटक के प्रतीक माने जाने वाले कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत एक बार फिर दिल्ली पहुंचे हैं। कड़ाके की ठंड के बीच सूबे की राजनीती का पारा एक बार फिर गरम हो गया है। उनके भविष्य के कदम को लेकर कयासबाजी के दौर ने गति पकड़ ली है। हालांकि दिल्ली जाते समय मीडिया से चर्चा में उन्होंने सिर्फ यही कहा कि जिस प्रकार हरीश भाई ने अपने पत्ते खोलने की बात कही है, वैसे ही अभी मेरे पत्ते भी खुलने शेष हैं।

वहीं सोमवार को बीजेपी के एक और MLA के इस्तीफे की चर्चा है। सियासी गलियारों में देहरादून की रायपुर विधानसभा सीट पर MLA उमेश शर्मा काऊ के इस्तीफे की चर्चा है। ऐसा कहा जा रहा है कि वह भी कांग्रेस में सम्मिलित हो सकते हैं। बीते 3 दिन में हरक सिंह रावत दूसरी बार दिल्ली गए हैं। उनके अचानक दोबारा दिल्ली रवाना होने की जानकारी प्राप्त होते ही एक बार फिर राजनीतिक हलचल आरम्भ हो गई है। वहीं सूत्रों से यह भी खबर है कि हरक सिंह रावत अपनी पुत्रवधू अनुकृति के साथ कांग्रेस में सम्मिलित हो सकते हैं।

दरअसल, अभी बीजेपी के उम्मीदवारों की सूची की प्रतीक्षा चल रही है, ऐसे में हरक के बर्ताव को लेकर सभी सियासी गलियारों में चर्चाएं चल रही हैं। सूत्रों के अनुसार, हरक अपने साथ ही अपनी पुत्रवधू अनुकृति के लिए भी टिकट का दबाव बना रहे हैं। वह शनिवार को हुई बीजेपी कोर ग्रुप की मीटिंग में भी सम्मिलित नहीं हुए थे। उनकी इन गतिविधियों को नाराजगी से जोड़कर भी देखा जा रहा है। वही अब देखना ये होगा कि हरक सिंह का अगला कदम क्या होता हैं।

यूपी चुनाव में पीएम मोदी ने खुद संभाला मोर्चा, टिकट बंटवारे पर बैठक में हुए शामिल

यूपी चुनाव: क्या अयोध्या में 'मोदी की काशी' जैसा करिश्मा कर पाएंगे योगी आदित्यनाथ ?

लद्दाख में नौकरी के लिए अनिवार्य थी 'उर्दू' भाषा, अब मोदी सरकार ने बदल दिया नियम

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -