इस तरह हुई थी K. L. राहुल की क्रिकेट में एंट्री

Apr 18 2021 09:08 AM
इस तरह हुई थी K. L. राहुल की क्रिकेट में एंट्री

इंडियन क्रिकेट टीम के स्टार बल्लेबाज लोकेश राहुल यानी के. एल. राहुल आज अपना जन्मदिन मना रहे है। वर्ष1992 में बेंगलुरु में जन्मे राहुल ने 2014 में टेस्ट डेब्यू किया था और शुरुआती 6 मैचों में 3 शतक जड़े। शुरुआत में सिडनी, कोलंबो और फिर किंग्स्टन में शतक जड़ने वाले राहुल को वनडे डेब्यू के लिए तकरीबन 2 वर्ष प्रतीक्षा करना पड़ा लेकिन उन्होंने इस फॉर्मेट में भी खुद को साबित किया।

भारत में पहला ही शतक 199 रन: जुलाई 2016 से मार्च 2017 के मध्य राहुल ने 12 टेस्ट मैच खेले और 55.52 के औसत से 944 रन बनाए। वह भारतीय सरजमीं पर अपना प्रथम टेस्ट शतक चेन्नै में खेला और दोहरे शतक से मात्र एक रन से वह पीछे रह गए। उन्होंने दिसंबर 2016 में खेले गए इस मैच में इंग्लैंड के विरुद्ध 199 रनों की पारी खेली।

धोनी ने थमाई थी टेस्ट कैप: राहुल ने अपना प्रथम टेस्ट मैच ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न में दिसंबर 2014 में खेला था। राहुल को टेस्ट कैप तब कप्तान MS धोनी ने ही थमाई थी। संयोग है कि वह मैच धोनी का अंतिम टेस्ट भी था। राहुल डेब्यू मैच में कुछ खास कमाल तो नहीं दिखा पाए और पहली पारी में 3 और दूसरी पारी में महज 1 रन बनाकर आउट हो गए थे।

ओपनर के तौर पर डेब्यू वनडे और टेस्ट में शतक: हम बता दें कि राहुल ने ओपनर के तौर पर अपने प्रथम टेस्ट और डेब्यू वनडे अंतर्राष्ट्रीय मैच, दोनों में ही शतक लगाया है। ऑस्ट्रेलिया में डेब्यू टेस्ट के उपरांत उन्होंने अपना दूसरा टेस्ट मैच सलामी बल्लेबाज के तौर पर खेला था और 110 रन बनाए थे। 2016 में जिम्बाब्वे के विरुद्ध वनडे इंटरनेशनल में डेब्यू मैच में उन्होंने पारी का आगाज किया था और वह 100 रन बनाकर नाबाद लौटे।

कोरोना को 'मज़ाक' समझने वाले हो जाएं सावधान, मरने से पहले इस शख्स ने लाइव जाकर बताई सच्चाई

1950 के दशक के फुटबॉल खिलाड़ी अहमद हुसैन का निधन

अमेरिकी राज्य इंडियाना में आठ लोगों की मौत, सामूहिक गोलीबारी में पांच घायल